SAMACHAR TODAY LIVE TV

http://samacharcloud.purplestream.in/samachar/samachar2-live.smil/playlist.m3u8

Friday, December 31, 2010

नए साल 2011 की हार्दिक सुभ कामनाये........

आप सभी को खबरी लाल परिवार की और से नए साल 2011 की हार्दिक सुभ कामनाये........

- आपका अपना .......


अमित सैनी
मुज़फ्फरनगर
09837739873

Thursday, December 30, 2010

कांग्रेस का वन दफ्तर पर प्रदर्शन

पुरे उत्तराखंड में हो रहे अवेध पदों के कतनो पर आज देहरादून के मुख्य वन अधिकारी का घेराव करते हुए कांग्रेसियो ने जोरदार नारेबाजी की और इस तरह से अवेध कटान पर रोष प्रकट किया कांग्रेसी नेता लाल चाँद शर्मा ने बोलते हुआ कहा की राज्य सर्कार की नुमाइंदो के चलते पुरे उत्तराखंड में इन अवेध केतनो पर रोक नहीं लग पा रही है जिस से उत्तराखंड में अवेध कटान लगातार जरी है

- संदीप अरोरा
देहरादून, 09927985001

खुद को अकेला महसूस करती नज़र आई U .K .D

उत्तराखंड की राजनीती में उबाल लाने वाली उतराखंड क्रांति दल खुद को अकेला महसूस करती नज़र आ रही है UKD के तीन में से एक ही विधायक के साथ UKD दो हिस्सों में बात गया है और राज्य सर्कार के विफल दावो की पोल खोलने में जुट गया है एक प्रेस वार्ता के दौरान UKD के केन्द्रीय संघठन मंत्री जय प्रकाश उपाध्याय ने बोलते हुआ कहा की UKD से समर्थन के दौरान नो बिन्दुओ पर गंभीरता से कार्य न कर पाने व् राज्यहित और जन्भाव्नाओ की अनदेखी करने की वजह से हम ग्लानी महसूस करते थे इसीलिए UKD ने इस भर्स्थ सर्कार के दामन को छोड़ पूर्ण रूप से राज्य की जनता के हित में लग गयी है और जनता की बात जन जन तक पंहुचा कर उनका विश्वास जीतेगी !
 
-- संदीप अरोरा
देहरादून, 09927985001

श्रम मंत्रालय भारत सरकार द्वारा कार्यशाला का आयोजन

देहरादून में श्रम मंत्रालय भारत सरकार द्वारा एक कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमे बतोर मुख्यअत्तिथि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल ''निशंक'' रहे
बीमा योजनाओ की जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री निशंक ने बताया की योजना के तेहत लगभग 247859 बी पी अल परिवारों को जल्द ही इसका लाभ मिलना शरू हो जायेगा इस योजना के तेहत सभी बी पी अल परिवारों को स्मार्ट कार्ड उपलब्ध करदिया गया है जिससे वो भारत में कही भी इस योजना ka लाभ ले सकेंगे इस योजना के बारे में बोलते हुए इस योजना को पूरी तरह सफल बनाने का पर्यास किये जाने का आह्वान किया !

- संदीप अरोरा
देहरादून, 09927985001

फरमान : स्कूल में मोबाइल सहित कई पाबन्दी

अम्बाला सिटी. ‘बच्चों लंबे बाल नहीं रखने और लो वेस्ट पैंट नहीं पहननी, स्कूल में मोबाइल लेकर नहीं आना और वाहन तो बिल्कुल नहीं चलाना’। जी हां, ये अम्बाला के एक स्कूल की खास काउंसलिंग का हिस्सा है। यह काउंसलिंग निरंतर हो रही है, जिसमें बच्चों के साथ पेरेंट्स को भी शामिल किया जाता है।
नाबालिग बच्चों द्वारा वाहन चलाने से तो शहर के सभी स्कूल परेशान है और बच्चों को रोकते ही हैं। लेकिन एसडी पब्लिक स्कूल ने इससे दो कदम आगे बढ़ते हुए बच्चों के कुछ स्टाइल और पहनावे को लेकर निरंतर काउंसलिंग करना शुरू कर दिया है। इसमें बार बार बताया जा रहा है कि स्टूडेंट्स को फैशन के नाम पर लंबे बाल रखने से परहेज करना है। उधर घुटनों तक या लो वेस्ट पेंट भी पहनकर नहीं आना है।
इसके बाद बात शुरू होती है मोबाइल और बच्चों के वाहन चलाने पर। थोड़े थोड़े समय बाद स्टूडेंट्स और पेरेंट्स की मीटिंग में यह सवाल किया जाता है कि बच्चे स्कूल में मोबाइल लेकर न आएं। मोबाइल रखने वालों पर सख्ती होगी। काउंसलिंग में विशेषतौर पर स्टूडेंट्स को फैशन के नाम पर लंबे बाल रखने से परहेज करने को कहा गया।
पेरेंट्स से भी सवाल, वाहन को लेकर नसीहत बहुत
बच्चों के वाहन चलाने को लेकर उक्त स्कूल ने कई विशेष मीटिंग ली हैं। इसमें पेरेंट्स से भी सवाल किया जाता है कि कोई गलती से भी बच्चों को वाहन न दे। प्रिंसिपल नील इंद्रजीत संधू कहती है कि बच्चों के व्यवस्थित बाल, पैंट आदि को लेकर हम बच्चों पर कोइ बंदिश लगाना नहीं चाहते, बल्कि उन्हे स्टूडेंट्स लाइफ के अनुशासन में बांधने की कोशिश है। मोबाइल और वाहन प्रयोग न करना उनके खुद के हित में है। - भास्कर से



ऍम के पी (पी जी) कालेज मै आनंदोत्सव

देहरादून के ऍम के पी (पी जी) कालेज मै आज आनंदोत्सव मनाया गया जहा देहरादून के कई कालिजो ने इस उत्सव में भागीदारी दर्ज कर इस आनंदोत्सव को सफल बनाया और यह उत्सव हदेवी कन्या पाठशाला पूर्व छात्रा परिषद् के तत्वधान में आयोजित किया गया जिसमे कई गंमंये अतिथि गानों ने इस आनंदौत्सव मेले का आन्द्लिया साथी छात्राव ने जमकर मस्ती भी की !

- संदीप अरोरा
देहरादून, 09927985001

94 वर्ष में बाप बने बुजुर्ग

हिसार/खरखौदा. सुनने में अपको बेशक अटपटा लगे लेकिन यह सौ फीसदी सच है कि खरखौदा में एक वृद्ध रामजीत 94 वर्ष की आयु में पिता बना है। जो मां की तरह बच्चे के पालन-पोषण में जुटा हुआ है।
कस्बे के वार्ड संख्या 9 के पास पिछले काफी समय से खेत में बने घर में अपना जीवन यापन करने वाला वृद्ध 94 वर्ष की आयु में बाप बना है। वृद्ध अपने घर में लड़के के रूप में आई संतान को पाकर बेहद खुश है। लड़के का नाम विक्रमाजीत रखा है।
लड़के के जन्म से उसे दोहरी खुशी इसलिए हुई है कि उसकी पत्नी शकुंतला जो पिछले काफी समय से मानसिक रोग से ग्रस्त थी वह भी पूरी तरह से स्वस्थ हो गई है और उनके घर में पुत्र रूपी चिराग आ गया। वृद्ध खुद भी अपने बच्चे का मां की तरह पालन पोषण करने में जुटा है। वृद्ध पिता बच्चे को अधिकतर समय अपने साथ रखता है और उसे खिलाता-पिलाता है।
वृद्ध पिता का कहना है कि 94 वर्ष के लंबे जीवन में उसने बहुत उतार-चढ़ाव देंखे हैं। जिसमें भारत पकिस्तान विभाजन के दौरान हुई हिंसा में भी उन्हें काफी परेशानी हुई । लेकिन उन्होंने हमेशा ही खेतों में परिश्रम किया है और आज भी वे पूरी तरह से एक्टिव हैं। वृद्ध पिता का कहना है कि भगवान ने उनकी सुन ली है जो उन्हें 94 वर्ष की आयु में पुत्र रत्न की प्राप्ति हुई है।
आस-पास के कालोनी वालों को जब इस बात का पता चला तो उन्होंने वृद्ध की हर संभव सहायता की। बच्चे को देखते के लिए उसके यहां तांता लग गया। कन्या महाविद्यालय प्रधान वेद प्रकाश दहिया ने भी उन्हें पूरी आर्थिक सहायता का आश्वासन दिया है। उनका कहना है कि संजोग से ऐसा देखने का मिलता है। किसी वृद्ध की मुराद इतनी उम्र में पूरी हुई हो। वे इन वृद्धों को पिछले काफी वर्षों से खेत में बने घर में रह रहे हैं और बच्चे को गाय का दूध पिलाते हैं। ताकि बच्चा पूरी तरह से स्वस्थ रहे।
- भास्कर से

विकलांगो का अपनी मांगो को लेगर गाँधी पार्क पर प्रदर्शन

उत्तराखंड में आज राष्टी दृष्टि हिन विकलांगो ने अपनी मांगो को लेगर गाँधी पार्क पर प्रदर्शन किया और राज्य सरकार को जमकर कोसा इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए संघठन के अध्यक्ष दिग्विजय सिंह का कहना था की सरकार उनकी चोद्हे सूत्रीय मांगो को सरकार ने हमेशा हमारे अनदेखा किया है जिसकी वजह से हम लोगो को सडको पर उतर कर प्रदर्शन करना पड़ा है- दिग्विजय सिंह (अध्यक्ष)

- - संदीप अरोरा
देहरादून, 09927985001

JOKER में सोनाक्षी सिन्हा...

नई दिल्ली :  फिल्म दबंग की सफलता के बाद में सोनाक्षी सिन्हा फराह खान की पहली पंसद बन गई है। अगर सरसरी तौर पर देखा जाए पूरी ही फिल्म में सलमान खान का साम्राज्य रहा, इसके बावजूद भी लोगों को सोनाक्षी का अंदाज पंसद आया। अब चर्चा है कि फराह खान अपनी फिल्म ‘तीस मारखां’ की कामयाबी के बाद में एक नई फिल्म जोकर बनाने जा रही है। जिसका जमीनी तौर पर काम भी शुरू हो चुका है। सूत्रों की माने तो फिल्म में अक्षय कुमार ही हीरो होगें और हीरोईन होगी सोनाक्षी सिन्हा। मजेदार बात यह है कि इस फिल्म का निर्देशन फराह नहीं करेगी तो फिर कौन होगें निर्देशक? जी हां, हम आपको बता ही देते है कि और कोई बल्कि फराह खान के पति शिरीष कुंदर।

- प्रेमबाबू शर्मा, दिल्ली

Wednesday, December 29, 2010

नरभक्षी माँ : खा गयी अपने मासूम बच्चे को

मुज़फ्फरनगर में दिल दहा ला देने वाला मामला सामने आया एक महिला ने नवजात शिशु को अपने मुह का निवाला बना लिया ! आस पास के लोगो ने जब ये नजारा देखा तो उस महिला से बच्चे को छिना ओर पुलिस को सुचना दी जिसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुचकर महिला को थाने ले गई ओर बच्चे को पोस्त्मार्तम के लिए भिजवाया देखने में ऐसा लगता है कि जैसे महिला अर्धविकसित है !
ज़रा गौर से देखिये इस महिला को जिसके मुह पर लगे खून के नीशान बया कर रहे है एक खौफनाक मंजर को , इस महिला ने एक नवजात शिशु को अपने मुह का निवाला बना लिया
इस बच्चे के हाथ ओर सर गयाब है आस पास के लोगो का कहना है कि इस महिला का ये बच्चा है जीके शारीर के अंगो को इसने खा लिया है बताया जा रहा है कि ये महिला थाना सिविल लाइन इलाके कि रेलवे रोड स्थित इस स्थान पर पिछले तीन दिनों से बैठी है ओर ये बच्चा इसी का है जबकि पुलिस मामले कि जाच में जुटी है कि ये बच्चा इसी महिला का है या फिर नहीं जो कि जाच के बाद ही साफ़ हो पायेगा बहराल महिला को थाने ले जाया जा चुका है ओर बच्चे के शव को पोस्त्मार्तम के लिए भिजवा  दिया  गया  है देखने में लगता है कि ये महिला दिमागी  तौर  से ठीक  नहीं है
- अमित सैनी
मुज़फ्फरनगर

सोतेली माँ धकेलना चाहती थी युवती को वेश्यावृत्ति के गोरख धंदे में

रायपुर। मेरी सौतेली मां शबाना परवीन देह व्यापार में ढकेलने की कोशिश कर रही है। उसे कुछ बाहरी लोगों के साथ भेजने की कोशिश की जाती है। मना करती हूं, तो दबाव डाला जाता है। जान से मारने की धमकी दी जाती है। पापा भी मेरी नहीं सुनते। मम्मी जैसा बोल रही हैं, वैसा करने को कहते हैं। यह सनसनीखेज बयान 18 साल की शालेय छात्रा का है।
झारखंड में रहने वाले युवती अपने सगे छोटे भाई और ममेरे भाई के साथ भागकर राजधानी पहुंची। उसे डर है कि पिता और उनके गुंडे उसे दोबारा पकड़ लेंगे। इसी आशंका से उसने मंगलवार को पुलिस अधिकारियों से मुलाकात कर थाने में लिखित बयान दर्ज करवाया।युवती के साथ उसका भाई रोशन और ममेरा भाई 27 साल का राजकुमार भी है। राजकुमार कोलकाता में थे। दो दिन पहले युवती छोटे भाई के तीन दोस्तों विनोद महतो, राकेश यादव और संजय कुमार यादव के साथ भागकर रायपुर चली गई। वे सोमवार रात 8 बजे रायपुर पहुंचे।
युवती ने बताया कि बाद में उसने अपने ममेरे भाई राज कुमार को भी बुलवाया जो मंगलवार सुबह फ्लाइट से रायपुर पहुंचा। मंगलवार को सुबह 11 बजे युवती अपने भाइयों के साथ दैनिक भास्कर कार्यालय पहुंची और दोनों फूट-फूटकर रोने लगे। भास्कर संवाददाता को इन लोगों ने पूरी परिस्थिति बताई। दोपहर बाद तीनों ने सिटी एसपी डा. लालउमेद सिंह से भी इसकी शिकायत की। सिटी एसपी ने युवती, उसके सगे भाई रोशन व राज कुमार का लिखित में बयान लिया है। उन्होंने अपने बयान में भी सौतेली मां और पिता पर दबाव डालकर देह व्यापार में ढकेलने का आरोप लगाया है।
दसवीं कक्षा में पढ़ने वाले युवती और रोशन झारखंड के रामगढ़ जिला स्थित कुज्जू शहर के नरसिंग कुमार के पुत्र-पुत्री हैं। नरसिंग सवरेदय निकेतन सहित दो स्कूल उसके पिता चलाते हैं। बच्चों ने यह भी आरोप लगाया कि उनकी सगी मां की मौत की वजह भी उनके पिता हैं।
तीनों पुलिस कस्टडी में सुरक्षित : सिटी एसपी डा. सिंह ने बताया कि तीनों अपनी सोतेली मां और पिता पर बेहद ही संगीन आरोप लगा रहे हैं। यह एक गंभीर जांच का विषय है। पुलिस ने बयान ले लिया है। तीनों को पुलिस की सुरक्षित कस्टडी में रखा गया है। इस मामले में झारखंड और बिहार पुलिस से बातचीत की जाएगी। एक टीम जांच के लिए भेजी जाएगी। तीनों की बातें थोड़ी संदेहास्पद भी लग रही है। इसकी जांच की जा रही है।
पुलिस इस मामले की पड़ताल के लिए बच्चों के बयान के बाद बिहार और झारखंड पुलिस से संपर्क करेगी। उनके माता-पिता और रिश्तेदारों से भी पूछताछ की जाएगी।
- दिपांशु काबरा, एसपी, रायपुर   (-भास्कर से )

सोमालिया के समुद्री क्षेत्र में लुटेरों के आतंक से रिहा हुआ संदीप

देहरादून ::-सोमालिया का समुद्री क्षेत्र में लुटेरों का आतंक अब भी जारी है जी हां ऐसा नहीं है कि यह लुटेरे किसी भी जहाज को अपना निशाना बनाते है बल्कि । यहां से गुजरने वाले मालवाहक जहाज ही इनका निशाना रहते हैं। इतना ही नहीं जहाज को सीमा तक सुरक्षित छोड़ना भी इन्हीं लुटेरों के जिम्मे होता है। कुछ ऐसा ही हुआ देहरादून के संदीप डग्वल के साथ जिस कंपनी में संदीप डंगवाल कार्यरत है उस कंपनी के 65 जहाज हैं। । इस दौरान बंधकों के साथ ज्यादती नहीं की जाती। इतना जरूर है कि फोन काट दिए जाते हैं और राशन सीमित कर दिया जाता है। लुटेरों ने पहले चौबीस घंटे तक पैसा गिना। इसके बाद अगले 12 घंटे जहाज में ही इसका बंटवारा किया गया। जिसके बाद वह जहाज छोड़कर उतर गए। लुटरों ने इसके बाद सोमालियाई सीमा तक अपने एस्कॉर्ट में ही जहाज को छोड़ा। हर्षमणि डंगवाल कहते हैं कि संदीप ने उन्हें बताया कि लुटेरों ने उनके साथ बुरा बर्ताव नहीं किया, लेकिन उन्हें सामान्य खाना-पीना दिया जाता था।
बरहाल कुछ भी हो आज संदीप के घर में जशन का माहोल है और उसके माता पिता भगवन का शुक्रिया अदा किया और उसकी लम्बी उम्र की कामना की !

- संदीप अरोरा

 देहरादून
 09927985001

बुलेट मोटरसाइकिल का मंदिर

भारत में हर वो चीज जिससे लगाव हो जाए उसका मंदिर बनाकर पूजा की जाने लगती है। जिस देश में इंसान भगवान बन जाए उसमें किसी मोटरसाइकिल का मंदिर बनना कोई बड़ी बात नहीं है। लेकिन राजस्थान के पाली जिले में बने बुलेट मोटरसाइकिल के इस मंदिर के पीछे की कहानी कुछ और है।
पाली जिले में बने बुलेट एनफील्ड मोटरसाइकिल के मंदिर के प्रति यहां के लोगों में काफी आस्था है। पाली जिले में बुलेट मोटरसाइकिल काफी लोकप्रिय भी है। पाली-जोधपुर रोड पर बने इस अनोखे मंदिर में मूर्ति के स्थान पर बुलेट 350 बाइक रखी गई है जिसे प्रसाद के तौर पर शराब भी चढ़ाई जाती है।
बुलेट बाबा के इस मंदिर में गांव वाले जहां फूल चढ़ाते हैं वहीं सड़क से गुजरने वाले बाइक सवार भी रुककर यहां सिर झुकाते हैं। वैसे बुलेट बाबा का यह मंदिर दुनिया में किसी मोटरसाइकिल का एकमात्र मंदिर हैं।
सुरक्षित यात्रा के लिए माथा टेकते हैं लोग
पाली से जोधपुर मार्ग पर गांव चोटिला के नजदीक पड़ने वाले इस मंदिर पर रोजाना सैंकड़ों यात्री रुककर सुरक्षित यात्रा के लिए प्रार्थना करते हैं। मंदिर पाली शहर से करीब 20 किलोमीटर दूर है।
क्या है मंदिर के पीछे की कहानी
स्थानीय लोगों के अनुसार यहां रखी गई मोटरसाइकल ओम सिंह की है। मोटरसाइकिल के पीछे ओमसिंह की तस्वीर भी रखी गई है जिसपर भी यात्री फूल चढ़ाते हैं। बताते हैं कि करीब 20 साल पहले ओम सिंह की यह बाइक यहां फिसलकर टकरा गई थी। इस दुर्घटना में ओमसिंह की मौत हो गई थी।
दुर्घटना के बाद बुलेट बाइक को थाने ले जाया गया था जहां से अगले दिन यह फिर से घटनास्थल पर ही मिली थी। शुरु में पुलिस को लगा कि यह किसी की शरारत होगी। बाइक को दोबारा थाने लाकर उसकी तेल टंकी खाली कर दी गई। लेकिन अगले दिन फिर यह बाइक घटनास्थल पर ही मिली।
जैसे-जैसे यह कहानी फैली आसपास के गांव के लोगों ने वहां एक मंच बनाकर यह मोटरसाइकिल रख दी। तब से इसकी पूजा का रिवाज शुरु हुआ। अब इस मंदिर का एक पुजारी भी है जो यहां नियमित पूजा करता है।- भास्कर से

ऍम के पी (पी जी) कोलिज में यूनियन विक प्रतियोगिता का शुबारम्भ

 देहरादून :-ऍम के पी (पी जी) कालेज देहरादून मई आज यूनियन विक प्रतियोगिता का शुबारम्भ किया गया जिसमे उतराखंड के कई कालेजो ने इस प्रतियोगिता में भाग लिया और सुगम संगीत लोक नृत्य जेसी प्रतियोगिताय की इस प्रोग्राम में महाविद्यालय की प्राचार्य डाक्टर इंदु सिंह ने समस्त प्रतियोगियों की प्रुस्कित किया व् उनका उत्सह वधान किया उन्होंने सिमिति को सफल आयोजन हेतु बाधाइया भी दी!
- संदीप  अरोरा 
देहरादून 
 09927985001

तेजी से काम करेगा कंप्यूटर

अगर आप भी अपने कंप्यूटर की धीमी रफ्तार से परेशान हैं तो आपके लिए खुशखबरी है। दरअसल अब एक ऐसी चिप को तैयार कर लिया गया है जिसकी मदद से आपका कंप्यूटर 20 गुना तेजी से काम करने लगेगा।
ब्रिटेन के ग्लासगो यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों द्वारा तैयार किए गए इस चिप में 1000 कोर हैं। जबकि आमतौर पर मौजूदा समय में इस्तेमाल किये जाने वाले कंप्यूटर्स में अधिकतम 16 कोर होते हैं। यानी इस खास चिप पर कोर की संख्या कई गुना ज्यादा है। जिसकी कदद से बड़ी से बड़ी फाइल भी चुटकियों में डाउनलोड हो जाएगी।
माना जा रहा है कि इस चिप का कमर्शियल प्रोडक्शन जल्दी ही शुरु हो जाएगा। और अगले साल ये आम खरीददारों के लिए बाजार में उपलब्ध होगा।-भास्कर से

विकलांगो का सचिवालय पर प्रदर्शन

देहरादून ::-उत्तराखंड के विकलांगो ने अपनी मांगो को लेकर आज देहरादून के गाँधी पार्क से रेली निकलते हुए प्रदेश सर्कार के खिलाफ अपना मोर्चा खोलते हुए नाराज़गी जाहिर की और अपनी मांगो को मनवाने के लिए सचिवालय का घेराव किया उनका आरोप है की प्रदेश सर्कार लगातार विकलांगो का शोषण करती आई है और उनकी मांगो पर कोई कारवाही नहीं कर रही है उनके प्रदेश अध्यक्ष बसंत थपलियाल ने मीडिया से रूबरू होते हुए प्रदेश सर्कार के इस सोतेले रवये पर एतराज़ जताया ........
- संदीप अरोरा 
देहरादून 
 09927985001

2010 का गम: अश्लीलता करके भी याना हुई हिट

साल 2010 कुछ मायनों में बॉलीवुड के लिए काफी अजीबो गरीब भी रहा यह तो सब जानते हैं कि सितारे पब्लिसिटी बटोरने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं मगर अश्लीलता की सारी हद पार कर जाएं ये शायद कोई न सोच पाए मगर इस साल मशहूर मॉडल याना गुप्ता ने अश्लीलता की ऐसी हदें पार की कि सब देखते ही रह गए
याना एक बच्चों के लिए रखे चैरिटी कार्यक्रम में बिना अंतः वस्त्र पहने ही पहुंच गईं याना की तस्वीरें इस कार्यक्रम में मौजूद एक फोटोग्राफर ने कैद कर ली और फिर क्या था हंगामा मच गया न्यूज चैनल,अख़बार,रेडियो,सोशल नेटवर्किंग साईट हर जगह याना के ऐसा करने की चर्चा जोरों पर रही याना को लोगों ने पेंटीलेस गर्ल का नाम तक दे दिया!! - भास्कर से




याना के ऐसा करने से उनपर अश्लीलता फैलाने का केस तक दर्ज हो गया
वहीं बाबूजी जरा धीरे चलो...आईटम सॉन्ग के बाद लगभग गायब हो चुकी याना को एक बार सुर्खियां बटोरने का मौका मिल गया
उन्हें एक मैंस मैगज़ीन ने एक करोड़ रुपए लेकर न्यूड होने का ऑफर तक दे डाला
हालांकि बाद में याना ने ऐसा कोई ऑफर मिलने की बात नकार दी मगर उन्होंने कहा कि अगर उन्हें ऐसा मौका मिलता तो वह न्यूड भी हो जाती


सैफ विंटर गेम्स-२०११/कार्यक्रम में कुछ फेरबदल

देहरादून ::-सैफ विंटर गेम्स-2011 के कार्यक्रम में कुछ फेरबदल किया गया है। गेम्स अब दस से 16 जनवरी के बीच आयोजित किए जाएंगे। इसका उद्घाटन केंद्रीय खेलमंत्री एमएस गिल करेंगे। समापन समारोह में योजना आयोग उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया भी शिरकत करेंगे। विंटर गेम्स फेडरेशन ऑफ इंडिया के प्रवक्ता पीसी थपलियाल ने बताया कि नए कार्यक्रम के अनुसार गेम्स का उद्घाटन देहरादून में दस जनवरी व इवेंट दस से 12 जनवरी के बीच जबकि औली में इवेंट 14 से 16 जनवरी के बीच होंगे। 16 को औली में सैफ विंटर गेम्स का समापन भी होगा। गेम्स का उद्घाटन केंद्रीय खेलमंत्री एमएस गिल करेंगे। इस बारे में फेडरेशन का आग्रह केंद्रीय खेलमंत्री ने स्वीकार कर लिया है। राज्यपाल माग्र्रेट आल्वा समापन समारोह की मुख्य अतिथि होंगी। इस मौके पर योजना आयोग उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया बतौर विशिष्ट अतिथि मौजूद रहेंगे। याद रहे 23 दिसंबर को फेडरेशन ने घोषणा की थी कि गेम्स नौ से 16 जनवरी के बीच आयोजित किए जाएंगे। अतिथियों की सहूलियत देखते हुए गेम्स कार्यक्रम में यह परिवर्तन किया गया है।


- संदीप अरोरा 
देहरादून
09927985001

Tuesday, December 28, 2010

कॉलगर्ल का हुजूम

रायपुर.राजधानी में इस बार नए साल के जश्न के लिए 500 से ज्यादा प्रोफेशनल कॉल गर्ल्स को बुलाए जाने की सूचना से पुलिस हैरान है। पुलिस को ऐसी जानकारी मिली है कि सबसे ज्यादा बुकिंग चुनिंदा होटल, क्लब, आउटर के फ्लैट्स, रेस्ट हाउस जैसी जगहों के लिए हो रही है।
हाल में पकड़ी गई कुछ कॉल गर्ल्स से पूछताछ में बड़े रैकेट चला रहा कई नामों का खुलासा हुआ है। ऐसे दो दर्जन से ज्यादा दलाल हैं, जो इस धंधे में सक्रिय हो चुके हैं।
विडंबना यह है कि पुलिस ऐसे ज्यादातर रैकेट के बारे में जानते हुए भी रेड मारने की हिम्मत नहीं जुटा पा रही। गली-मोहल्लों में दबिश देकर पुलिस छोटे-मोटे मामलों में ही उलझी हुई है।
पुलिस ने पिछले दिनों डेढ़ दर्जन से ज्यादा कॉल गल्र्स को गिरफ्तार किया है। उनमें से कुछ महिलाएं दलाल थीं, जिनका नेटवर्क सीधे तौर पर बड़े दलालों से जुड़ा हुआ है। पूछताछ में पता चला है कि इस बार खासतौर पर नए साल के जश्न के लिए बड़ी संख्या में युवतियों को देह व्यापार के लिए बुलाया गया है।
शहर और आसपास के इलाकों के हाई प्रोफाइल लोगों के बीच इन दिनों हर रोज दिल्ली, मुंबई, इंदौर और कोलकाता जैसे शहरों से कॉल गर्ल्स रायपुर पहुंच रही हैं। पुलिस को ऐसी जानकारी मिली है कि शहर के आसपास स्थित फार्म हाउस, चुनिंदा होटल, सरकारी गेस्ट हाउस में इनके ठहरने की व्यवस्था की गई है।
सबकुछ जुगाड़ पर आधारित है और इसमें सरकारी तंत्र के भी कुछ अफसर रैकेट को चलाने में शामिल हैं। कुछ खास होटलों में खास तरह के इवेंट इसलिए आयोजित करवाए जा रहे हैं, ताकि बाहर से कॉल गर्ल्स को भी बुलवाया जा सके।
दर्जनभर से ज्यादा बड़े इवेंट मैनेजर अपने ग्राहकों को लुभाने के लिए बड़े जोर-शोर से लगे हैं। उन्होंने अपने संपर्क की तमाम लड़कियों को रायपुर में बुलाया है।
पर्मानेंट ग्राहकों के लिए एनुअल पैकेज:
शहर के कुछ ऐसे प्रोफेशनल दलाल हैं, जिनके संपर्क सीधे बड़े राजनीतिज्ञ, नेता, उनके गुर्गे, शासकीय-गैर शासकीय ढेरों अफसर, व्यापारी, उद्योगपति और बड़े घरानों के बिगडै़लों से है।
इनमें से आधे तो पर्मानेंट ग्राहक हैं, जिनके लिए सालभर का पैकेज फिक्स है। यह ऐसा पैकेज है, जिसके तहत एक साल तक हर महीने 5-10 लड़कियां उन्हें नियमित रूप से सप्लाई होती है।
विदेशी लड़कियों की ज्यादा डिमांड :
शहर के खास ग्राहकों की बात करें, तो उनमें इन दिनों विदेशी कॉल गर्ल्स की ज्यादा डिमांड है। रशियन, ब्राजिलियन, थाई और एशियन देशों की कॉल गर्ल्स को ऐसे ग्राहकों के लिए बुलाया जाता है। खास होटलों और क्लब में ऐसी युवतियां के 10-50 लाख तक के पैकेज में बुक होने की खबर है। इनके लिए ग्राहक दिन तय कर दिया गया है।
कॉल गल्र्स में छात्राएं भी शामिल:
दिल्ली, मुंबई, चंडीगढ़, हैदराबाद, कोलकाता, इंदौर आदि शहरों में पढ़ाई कर रहीं स्कूल-कॉलेज की दर्जनों लड़कियां रायपुर में खास पैकेजों में बुलाई जा चुकी हैं। इंदौर के एक प्रतिष्ठित स्कूल की दो कॉल गल्र्स रायपुर में पहले पकड़ी जा चुकी हैं। पुलिस, क्राइम ब्रांच और महिला सेल इन दिनों गली मोहल्लों में चार-छह आरक्षकों के भरोसे सेक्स के नाम पर खाक छानने में लगी है।
अफसरों से पूछो तो उनका तर्क रहता है कि बड़े होटल और हाई प्रोफाइल मामलों में कौन हाथ डाले। वहां तो कार्रवाई करने के लिए पहले सबूत की जरूरत पड़ती है। अब जब तक पुलिस सबूत जुटए, तब तक तो जश्न पूरा भी हो जाए।
बहरहाल पुलिस पिछले डेढ़ महीने में आठ से ज्यादा देहव्यापार के मामलों को पकड़ चुकी है, लेकिन सभी मामले छोटी-मोटी गरीब लड़कियों से जुड़े हैं, जो 500-1000 रुपए में सौदा करती हैं। इनमें ग्राहक भी ऐसे होते हैं, जो छोटे-मोटे व्यापारी या गरीब-सामान्य तबके के होते हैं। - भास्कर से

महिला का सिर मुंडवाया

आलीराजपुर. प्रदेश के आलीराजपुर जिले में पंचायत ने एक शादीशुदा महिला का सिर मुंडवा दिया और उसके साथ मारपीट की गई। इसके कारण महिला के जबड़े में फ्रैक्चर हो गया।
पंचायत का आरोप है वह दूसरे समाज के युवक के साथ भाग गई थी जबकि महिला का कहना है कि उसका अपहरण किया गया था।
नेहतड़ा में रहने वाले अनसिंह की पत्नी केलबाई के मुताबिक,एक माह पहले गुजरात में मजदूरी के दौरान गांव के ही युवक भुरू ने उसका अपहरण कर अहमदाबाद में कैद कर रखा था।
मौका मिलने पर वह उसके चंगुल से छूटकर धार जिले में अपने मायके पहुंची और वहां से नेहतड़ा में अपने घर आ पाई। इसकी सूचना गांव के सरपंच मुकामसिंह और केलबाई के काका ससुर लालसिंह को मिली तो उन्होंने भिलाला समाज की पंचायत बुलाई।
पंचायत के मुताबिक,इतनी बड़ी घटना के साथ कोई महिला पति के साथ कैसे रह सकती है।
भरी पंचायत में लालसिंह ने बेल्ट से केलबाई की पिटाई कर दी। साथ ही उसका सिर भी मुंडवा दिया। अनसिंह की भी पिटाई की गई और दोनों को गांव निकाला दे दिया गया। बाद में केलबाई की शिकायत पर पुलिस ने सरपंच सहित १६ के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। चार लोगों को गिरफ्तार किया गया,12 आरोपी अभी फरार हैं।
सरकार का कहना
गृह मंत्री उमाशंकर गुप्ता और जिले के प्रभारी मंत्री महेंद्र हार्डिया ने कहा कि महिला के साथ अत्याचार को सहन नहीं किया जाएगा। पुलिस से विस्तृत रिपोर्ट लेकर सख्त कार्रवाई की जाएगी।
आयोग भी सख्त

मप्र राज्य महिला आयोग के सदस्य सचिव उमाशंकर नगाइच ने और मप्र मानवाधिकार आयोग के सदस्य विजय शुक्ल का कहना है कि घटना अत्यंत निंदनीय है। कलेक्टर से रिपोर्ट मंगाई जा रही है। उसी के आधार पर कार्रवाई की सिफारिश की जाएगी। - भास्कर से

Monday, December 27, 2010

....एक विवाह ऐसा भी

रायपुर.सुबह परिचय, दोपहर में अंगूठी और सगाई तथा शाम को पंडरी गुरुद्वारे में शादी। चार दिन में होने वाली सभी रस्में एक ही दिन में निभाई गईं। कटनी के संदीप मंगलानी ने नागपुर की शिल्पा राय का रायपुर में हाथ थामा। बढ़ती महंगाई और फिजूलखर्ची के दौर में सिंधी समाज ने यह अनुकरणीय मिसाल पेश की।
कटनी में जनरल स्टोर चलाने वाले संदीप के लिए उनके मामा छत्तीसगढ़ चेंबर ऑफ कामर्स के कोषाध्यक्ष अर्जुन दास ओचवानी और शिल्पा मोटवानी के मामा श्यामलाल घनश्याम दास डोडानी ने आपस में बात चलाई।
दोनों ने इसकी जानकारी अपनी बहनों ज्योति मंगलानी और रेखा मोटवानी को दी। दोनों अपने-अपने बच्चों के साथ रायपुर आए। रविवार की सुबह संदीप और उसकी मां ने लड़की देखी। उन्हें शिल्पा इतनी पसंद आई कि उन्होंने फौरन ही सगाई और अंगूठी रस्म का अनुरोध किया।
तुरंत ही रिश्तेदारों को फोनकर सूचना दी गई। वे जो भी साधन मिला उससे फौरन रायपुर पहुंचे। इस बीच सगाई और अंगूठी की रस्म निभाई गई। शाम को रिश्तेदारों के आने के बाद गुरुद्वारे में रीति-रिवाज के साथ विवाह भी संपन्न हो गया।नव दंपत्ति को पूरन लाल अग्रवाल, पोहूमल, कैलाश मुरारका, ललित जैसिंघ, अनिल गुरुबक्षाणी समेत परिजनों ने आशीर्वाद दिया।
नाच गाना होगा कि नहीं:
आनन फानन में शादी तय होने की जानकारी मिलने पर रिश्तेदारों ने तरह तरह के सवाल किए। ज्योति मंगलानी से परिजनों ने पूछा कि इतनी जल्दी शादी कैसे तय हो गई, अभी तो संदीप का जनेऊ नहीं हुआ है।
शादी में नाच-गाना, मेहंदी और बारात की रस्में होंगी कि नहीं? श्रीमती मंगलानी ने अपने भाई की सहायता से फौरन एक निजी होटल बुक कराया। वहां रिश्तेदारों की बातों के अनुसार सारी व्यवस्था की गई।
सब कुछ अचानक हो गया
शिल्पा की मां रेखा मोटवानी को तैयारियों की चिंता थी। ऐसे में उनके भाई श्यामलाल डोडानी उन्हें संबल दिया। व्यवस्था की जिम्मेदारी उन्होंने अपने हाथों में ली।
श्रीमती मोटवानी ने बताया कि अच्छे घर में बेटी की शादी का सपना देखा करती थी। आज वह साकार हो गया। लड़के वालों ने कोई मांग नहीं की है। उन्हें बस लड़की चाहिए।
- भास्कर
से

दांत से काटी पड़ोसी की नाक

कानपुर। बच्चों के अपमान का बदला लेते हुए एक नशेबाज पिता ने पड़ोसी की नाक काट ली। चीखने-चिल्लाने की आवाजें सुन कर पड़ोसी भाग कर मौके पर पहुंचे और बीच-बचाव किया। परिजनों ने घायल को उपचार हेतु अस्पताल में भर्ती कराया है। मामला बर्रा थाना क्षेत्र का है।
बर्रा कर्रही में किशन कुमार अपने परिवार के साथ रहता है। वह ट्रांसपोर्ट का काम करते हैं। उनके पड़ोस में ही जय किशोर का परिवार रहता। जयकिशोर रिक्शाचालक है। शनिवार की दोपहर जयकिशोर के बच्चे किशन कुमार के बगल में रहने वाले उसके भाई जितेंद्र के यहां टीवी देख रहे थे। तभी किशन वहां पहुंच गया और अपमान जनक जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल करते हुए बच्चों को वहां से भगाने को कहा। भाई को गुस्से में देखकर जितेंद्र ने भी बच्चों को घर से चले जाने को कहा।
शाम को जब जयकिशोर घर पहुंचा तो बच्चों ने पिता को सारी बात बताई। बच्चों के अपमान की बात सुनते ही जयकिशोर का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया। रात में शराब पीने के बाद नशे में वह किशन के घर में घुस गया और गाली-गलौज करने के साथ ही उसकी पिटाई कर दी। जब किशन ने किशोर पर हाथ उठाया तो किशोर में गुस्से में आ किशन की नाक दांत से काट ली। दर्द से किशन जोर-जोर चिल्लाने लगा। शोर सुन कर परिजनों समेत पड़ोसी भी वहां जमा हो गए। गंभीर रूप से घायल किशन को परिजन उर्सला ले गए।
जहां चिकित्सकों ने बताया कि काटने की वजह से नाक में घाव गहरा हो गया है ठीक होने में समय लगेगा। वहीं लोगों की सूचना पर बर्रा पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। एसओ का कहना है कि अभी तक उनकों तहरीर नहीं मिली है। अगर किसी के द्वारा मामला दर्ज कराया जाएगा तो कार्रवाई की जाएगी।
- भास्कर से

देहरादून में डकेतो का आतंक

देहरादून में एक बार फिर डकेतो ने एक परिवार को अपना निशाना बनाया और लाखो का सामान लेगर फुर्र हो गए घटना देहरादून के थाना नेहरु कालोनी क्षेत्र के श्रृष्टि विहार की है जहा डकेतो ने ससुर और बहु को बेहोश कर घर से कीमती सामान और इंडिका कार लेकर रफुचाकर हो गए ज्योतिशाचार्ये पंडित शिव प्रसाद उनियाल व् उनकी बहु इंदु को जब होश आया तो उन्होंने अपने घर में बिखरे हुए सामान और कीमती वस्तुओ को गायब देखा तो पुलिस को फ़ोन किया जब जाकर पुलिस मोके पर पहुची और पूरी घटना कर्म की जानकारी ली मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस ने आस पास के कई इलाको में सुचना दे दी है और चेकिंग अभियान जारी कर डकेतो की पकड़ धाकड़ में लग गयी है !
 
- संदीप अरोरा
देहरादून
09927985001



Saturday, December 25, 2010

अपने खून ने भी साथ ना दिया राजेश गुलाटी का

देहरादून के बहुचर्चित अनुपमा हत्याकांड के आरोपी राजेश अपने ही रिस्तो से टूटता नज़र आया जब उसी के जिगर के टुकडो ने अपने ही पिता से मिलने की कोशिश नहीं की और रो पड़े जी हां कोर्ट के फेसले के बाद महीने की हर चोथी तारिक को अपने बच्चो से मिलने के आदेश के बाद आज राजेश अपने बच्चो से तो मिला लेकिन बच्चो ने अपने पापा को सुविकर नहीं किया और रोते हुए कोर्ट में अपने मामा से मिलने की जिद करने लगे जिसके बाद कोर्ट ने उसी समय बच्चो को मामा की सुपुर्दगी मै भेज कर बच्चो को शांत कराया जिसके बाद बच्चो के मामा ने एक प्राथना पत्र में बच्चो के इस तरह से कोर्ट में मिलने पर आपत्ति जाहिर की जिसके बाद कोर्ट ने मामले देखते हुए फेसला सुरक्षित रखा और जनवरी छ को उस प्राथना पत्र की सुनवाई का निर्णेय किया है
और इसी मामले में राजेश के मुक़दमे से पीछे हते अधिवक्ता जे एस बिष्ट तो उसके बाद अब नए अधिवक्ता एस के वाधवा ने राजेश को इस मुक़दमे में कोर्ट में मदद करने की बात कहते हुए अपना वकालत नामा कोर्ट में दाखिल किया !

- संदीप अरोरा
देहरादून
09927985001



Friday, December 24, 2010

विवाहिता की गांव में ' नो एंट्री '

वाराणसी। उत्तर प्रदेश के शहर वाराणसी में पंचायत के एक फैसले के बाद प्रेमी और प्रेमिका को गांव में नो एंट्री का फरमान सुना दिया गया है। गुनाह यह है कि प्रेमिका पहले से ही शादीशुदा थी और अपने पति और भाभी के अवैध संबधों को जानने के बाद उसने यह कदम उठाया था।
देवताओं की नगरी वाराणसी के घमहापुर गांव में एक साल पहले ब्याही एक दुल्हन को जब पता चला कि उसके पति के संबंध उसकी भाभी से हैं तो वह सहन न कर सकी। पति से उपेक्षित रहने वाली नई नवेली दुल्हन को अपने पड़ोस में रहने वाले एक लड़के से प्यार हो गया।
एक दिन दोनों घर से भाग गए। और शादी कर ली। 15 दिन बाद जब वह अपने गांव लौटे तो पंचायत ने लड़की को गुनहगार बता गांव में घुसने से मना कर दिया।
जब लड़की ने अपने पहले पति की करतूतों का खुलासा किया तो पंचायत ने चुप्पी साध ली। स्थानीय पुलिस ने पूरे घटनाक्रम की पुष्टि की लेकिन किसी भी तरह की शिकायत दर्ज कराने की बात से इंकार कर दिया। - भास्कर से

मां ने रोने पर ली बच्चे की जान

यूं तो दक्षिण कोरिया इंटरनेट के प्रसार के मामले में दुनिया का अग्रणी देश है लेकिन वहां को लोगों को इसका खामियाजा भी उठाना पड़ रहा है। दक्षिण कोरिया में लोग इंटरनेट के इतने आदी हो गए हैं कि वो असल जिंदगी से ज्यादा वर्चुअल लाइफ को महत्व देने लगे हैं। खबर है कि इंटरनेट पर गेम खेलने की आदी एक महिला अपने बच्चे के रोने से इतना झल्ला गई कि उसने उसकी जान ही ले ली।
यह महिला लगातार चार घंटों से कंप्यूटर पर गेम खेल रही थी। इसी बीच उसके तीन साल के बेटे ने फर्श पर पेशाब कर दिया और रोने लगा। महिला इस पर इतना गुस्सा हो गई की उसने बेटे का गला घोंटकर उसकी जान ही ले ली।
दो बेटों की इस 27 वर्षीय मां ने अपने बेटे के शव को घर पर छुपाए तीन दिन तक छुपाए रखा। एक रिश्तेदार ने बच्चे के शव को देखकर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने किम नाम की इस महिला को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक यह महिला ऑनलाइन गेम्स खेलने की आदि थी और रोजाना दस घंटे तक कंप्यूटर पर गेम खेलती थी।
दक्षिण कोरिया सरकार के अधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक देश में करीब 20 लाख लोग ऑनलाइन गेम खेलने के आदि हैं। पिछले महीने ही एक किशोर ने गेम खेलने से रोकने पर अपनी मां की जान ले ली थी। उसके बाद इस किशोर ने अपनी भी हत्या कर ली थी। - भास्कर से

दादा-दादी ने रचाई शादी

कोटा.प्यार, मोहब्बत और दिल का जहां मामला हो, वहां उम्र कोई मायने नहीं रखती। कोटा के मदनमोहन 85 और द्रोपदी 65 की उम्र के हो गए तो क्या हुआ। 15 साल पहले एक मंदिर में हुई मुलाकात के दौरान नैन मिले तो चेन मिला और अब कोर्ट में शादी रचा एक दूजे के हो गए।
पहले यह सोचते थे कि जमाना क्या कहेगा, लेकिन फिर झिझक तोड़ी और कदम बढ़ाया और गुरुवार को स्पेशल मैरिज एक्ट के तहत जिला कलेक्टर टी रविकांत के समक्ष पेश हो कानूनन शादी के बंधन में बंध गए।
कलेक्टर के कक्ष में दोनों ने एक दूसरे को वरमाला पहनाई। कलेक्टर ने बुजुर्ग जोड़े के सुखमय जीवन की कामना के साथ शादी का प्रमाण-पत्र सौंपा। यह बुजुर्ग जोड़ा ज्यों ही कलेक्टर कक्ष से बाहर आया मौजूद लोगों की निगाहें इन पर टिक गई। यहां से ये अपने निवास किशोरपुरा चले गए।
एडवोकेट राजेन्द्र कुमार जैन ने बताया कि किशोरपुरा मैन रोड निवासी मदनमोहन शर्मा (85) एवं द्रोपदीबाई (65) ने 14 अक्टूबर 2010 को स्पेशल मैरिज एक्ट के तहत कलेक्टर के पास विवाह प्रमाणपत्र के लिए दरख्वास्त तथा दो शपथ-पत्र पेश किए थे।
15 साल पहले मथुराधीश मंदिर में हुई थी मुलाकात: मदनमोहन व द्रोपदी धाíमक प्रवृति के हैं। नियमित मंदिर जाते है। पहली बार दोनों की मुलाकात करीब 15 साल पहले पाटनपोल के मथुराधीशजी मंदिर में हुई थी। तभी से दोनों का परिचय था। बाद में दोनों साथ-साथ रहने लगे।
ना कोई आगे-पीछे..
द्रोपदी के पूर्व पति बद्रीलाल का देहांत 15 वर्ष पहले और मदनमोहन की पूर्व पत्नी का 25 वर्ष पूर्व देहान्त हो गया था। तभी से दोनों अकेले ही जिंदगी बसर कर रहे थे। शर्मा सेवानिवृत्त पुलिस अफसर है।
कोटा शहर में पहला मामला
एडवोकेट राजेन्द्र कुमार जैन ने बताया कि मदनमोहन एवं द्रोपदीबाई ने उम्र के इस पड़ाव में शादी करके अनूठी मिसाल पेश की है। कोटा शहर में इस तरह का पहला मामला है।
- भास्कर से


सजय गांधी अस्पताल में सफाई अभियान कार्यक्रम

नई दिल्ली : सामाजिक संस्था समर्पण द्वारा दिल्ली के मंगोलपुरी स्थित संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल में जैविक और सर्जरीकल कचरा हटाओ एंव स्वच्छता अभियान चलाया। एक सप्ताह तक चले इस सफाई अभियान में अस्पताल में मौजूद गंदगी व जैविक कचरे को हटा कर साफ किया गया। इस मौके पर संस्था के पदाधिकारियों में एडवोकेट वीरेन्द्र सिह,आजाद सिंह, केसी मलिक, बलवीर सिंह, संजय चावला और गीता चावला के अलावा अनेक कार्यकर्ता व अस्पताल से जुडे अधिकारी व डॉक्टर मौजूद थे। इस सफाई अभियान के मौके पर समर्पण के संस्थापक एडवोकेट वीरेन्द्र सिह ने बताया कि समर्पण के बीस कार्यकर्ताओं ने प्रत्येक वार्ड में फैली गंदगी फर्श और दीवारों एवं जैविक और सर्जरी कचरे को साफ करके अस्पताल को गंदगी मुक्त किया। पार्यावरण की रक्षा हेतू स्वच्छता अभियान आवश्यक है। इस स्वच्छता अभियान से हम मरीजों को स्वच्छ वातावरण देगें। वही जैविक कचरे से पर्यावरण को होने वाले नुकसान को भी कम कर सकेगें।
संस्था से जुडे आजाद सिंह और के सी मलिक ने बताया संस्था समर्पण का मकसद पूरे शहर को गंदगी मुक्त कर स्वच्छ वातावरण देना है। संस्था समय समय पर सफाई जागृति अभियान का आयोजन करती रहती है और अस्पतालों को ही चुनने के पीछे का कारण है मरीज अस्पताल में स्वस्थ होने के लिए आता। लेकिन गंदगी और बदबूदार वातावरण के कारण अपने साथ में अनेक तरह की बीमारियों को लेकर घर लौटता है। बलवीर सिंह और संजय चावला ने बताया कि हमने अपने इस अभियान के लिए संजय गांधी अस्पाताल मंगोलपुरी को ही इसलिए चुना है क्यों यहां चारों ओर गंदगी और बदबूदार वातावरण का माहौल था। संस्था के कर्ताओं ने मिलकर अस्पाताल में जगह जगह फैला सर्जरीकल व जैविक कूडा करकट, और बदबूदार चीजों का हटाकर वातावरण को पूरा तरह से गंदगीमुक्त कर दिया। संस्था की एक पदाधिकारी गीता चावला ने बताया सफाई अभियान के तहत संस्था समर्पण इससे पूर्व में पश्चिमी दिल्ली स्थित दीनदयाल अस्पताल सहित कई सार्वजनिक स्थानों को गंदगीमुक्त करके स्वच्छ चुकी है।

 
प्रेमबाबू शर्मा.... दिल्ली

Wednesday, December 22, 2010

वेश्याओं के मांस को भून खा जाता था वो

क्रॉसबो कानिबाल के नाम से कुख्यात ब्रिटेन के अपराधी को वेश्याओं की हत्या कर उन्हें खा जाने के मामले में उम्रकैद की सजा सुनाई गई है।
खुद को क्रॉसबो कानिबाल कहने वाला स्टीफन ग्रिफिथ्स वेश्याओं की हत्या कर उनके शरीर के कुछ हिस्सों को भूनकर खा जाता था। स्टीफन ने जांच अधिकारियों को बताया था कि उसने अपना शिकार बनी पहली दो महिलाओं के मांस को भूनकर खाया और तीसरी महिला के मांस को वो कच्चा ही खा गया।
ग्रिफिथ्स ने तीनों महिलाओं को एक बॉथरूम में काटा। वो इस बॉथरूम को स्लॉटरहाउस कहता था। 40 वर्षीय ग्रिफिथ्स क्रिमनोलॉजी का छात्र था और वो सीरियल किलर्स के बारे में पढ़कर सनकी हो गया था।
ग्रिफिथ्स ने सुजैन ब्लेमायर्स, शैली आर्मिटेज और सुसान रुशवर्थ नाम की तीन वेश्याओं की हत्या की अपने घर के पास ही की थी। कोर्ट में जुर्म साबित हो जाने के बाद ग्रिफिथ्स को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है।  - भास्कर से


 

भारत माता-श्रीकृष्ण की 'अश्लील तस्वीर'

मेरठ। - 'अब तो भारत माता और भारत के नेता एक जैसे ही हैं, इसलिए भारत माता की नहीं भारत के नेता की जय बोलनी चाहिए।'
- 'कृष्ण की भले 16 हजार गोपियां दीवानी रही हों लेकिन वह आज की किसी लड़की को पटा कर दिखाएं तो मानें।'
मेरठ के विश्वविद्यालय में चौधरी चरण सिंह जैसे नेता की जयंती पर आयोजित चार दिनी कार्यक्रम में आज की पीढ़ी के बच्चों के मुंह से ऐसी टिप्पणियां सुनना वाकई चौका देने वाला था। लेकिन उससे भी ज्यादा हैरानी वाली बात तो यह थी कि इन अपत्तिजनक टिप्पणियों पर प्रेक्षागृह में बैठे तमाम शिक्षक और कुलपति ठहाके ओर तालियां बजा रहे थे। और जिने अच्छा नहीं लगा वे कार्यक्रम बीच में छोड़ कर चले गए।
घटना सोमवार की है। विवि में चल रहे कार्यक्रम के दौराने छात्रों ने ऐसी टिप्पणियां की जिसमें देश, देशभक्ति और आस्था का मजाक उड़ाया गया। जिस पर मंगलवार को वीसी को सख्त कदम उठाना पड़ा।
सोमवार को हुए इस कार्यक्रम के बाद बड़ी संख्या में छात्र सड़क पर उतर आए और जमकर प्रदर्शन किया। छात्रों ने वीसी दफ्तर में भी जमकर हंगामा किया और सांस्कृतिक परिषद के मुख्य संयोजक का घेराव कर इस्तीफे की मांग की।
दरअसल छात्रों में देवी-देवताओं पर अशोभनीय टिप्पणियों और चित्रकला प्रदर्शनी में अश्लील पेंटिंग्स के माध्यम से धार्मिक भावनाओं को आहत करने पर विरोध की ज्वाला भड़की थी।
गुस्साए छात्र सबसे पहले यहां नेताजी सुभाष चंद बोस प्रेक्षागृह पहुंचे। उन्होंने पहले चित्रकला प्रदर्शनी में लगी विवादास्पद पेटिंग को तलाशा पर इसे पहले ही हटाया लिया गया था। प्रेक्षागृह के बाहर ही सांस्कृतिक परिषद मुख्य संयोजक/ महासचिव डा. असलम जमशेदपुरी तथा चीफ प्रोक्टर प्रो. योगेंद्र सिंह भी छात्रों को मिल गए। छात्रों ने वहीं डा. असलम का घेराव कर लिया। नारेबाजी तथा हंगामा कर डा. असलम से इस्तीफा देने की मांग की।
उनकी छात्रों से काफी देर तीखी नोकझोंक भी हुई। चीफ प्रोक्टर प्रो. सिंह ने कहा कि वीसी के समक्ष अपनी बात रखें। वह भी वहीं आ रहे हैं। इस पर छात्र वीसी कार्यालय में पहुंचे। वहां चीफ प्रॉक्टर तो पहुंचे पर डा. जमशेदपुरी नहीं गए। छात्रों ने वीसी प्रो. एनके तनेजा को घेर लिया।
विवि सांस्कृतिक परिषद भंग कर मुख्य संयोजक तथा अन्य दोषियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराने की मांग की। वीसी ने माना कि सोमवार को जो कुछ हुआ, वह बेहद गंभीर एवं शर्मनाक है। घंटों चले घेराव के बाद वीसी ने छात्रों को आश्र्वासन दिया कि आज शाम तक ही मामले में कार्रवाई सुनिश्चित कर अवगत करा दिया जाएगा।
बवाल के बढ़ने की आशंका में विवि प्रशासन ने मंगलवार को दोपहर बाद संकायाध्यक्षों की आपात बैठक बुलाई। साथ ही विवि सांस्कृतिक परिषद को तत्काल प्रभाव से भंग कर दिया गया। - सहयोग दैनिक भास्कर

कस्टमर को रिझाओ वरना पिटो

मुंबई। मुंबई में नए साल के स्वागत की तैयारियां होने लगी हैं। होटल से लेकर छोटे-छोटे बार तक इस बार ग्राहकों से मोटी कमाई करने के अलग-अलग पैतरें खोज रहे हैं। ऐसे में मुंबई के एक बार मालिक पर बार की ही दो डांसरों ने आरोप लगाया है कि वह उनसे ग्राहकों को रिझाने की बात कह रहा है। लेकिन जब उन्होंने ने ऐसा करने से मना कर दिया तो बार मालिक ने उनकी जमकर पिटाई की और नौकरी से निकाल दिया।
प्रिया के मुताबिक दोनों डांसरों का काम बार में डांस करने तक ही सीमित है और यह काम वह अपने घर की माली हालत को सुधारने के लिए करती हैं। रमेश की यह बात सुन कर दोनों ने ऐसा करने को इंकार कर दिया।
नीता बताती है कि उन दोनों के इंकार करने पर पहले तो रमेश ने उन्हें समझाया कि ऐसा करने पर उन्हें और बार को फायदा होगा। मालिक उन्हें ज्यादा पैसे देगा। लेकिन फिर भी प्रिया और नीता इस गंदे काम को करने के लिए तैयार नहीं हुईं तो रमेश और बार मालिक ने मिलकर दोनों को खूब पीटा और नौकरी से निकाल दिया।
दोनों पीड़ित बार डांसारों ने पुलिस में मामले की रिपोर्ट लिखवाई तो पुलिस ने रमेश को हिरासत में लेकर पूछताछ की। पुलिस के मुताबिक रमेश ने कहा कि ऐसा कुछ भी दोनों बार डांसरों को करने के लिए नहीं कहा गया था बल्कि वह दोनों आपस में लड़ती रहती थीं इसलिए उन्हें नौकरी से निकाल दिया गया। फिलहाल पुलिस ने रमेश को हिरासत में रख रखा है और दोनों बार डांसरों मेडिकल चेकअप के लिए भेज दिया गया है। मेडिकल चेकअप की रिपोर्ट के आधार पर मामले की आगे जांच की जाएगी।



प्रिया और नीता नाम की यह दो बार डांसर अरुण बार में पिछले चार सालों से काम कर रही थीं। अचानक बार मलिक को क्या सूझा कि उसने बार के कर्मचारी रमेश शेट्टी को दोनों डंसरों से वैश्यावृत्ति करने को कहा। रमेश ने मालिक की बात को प्रिया और नीता तक पहुंचाया और दोनों से नए साल की रात ग्राहकों संग हमबिस्तर होने की बात कही।

बीवियां सड़क पर धुनती रही, बेटा बाप को बचाता रहा

मुंबई। मंगलवार रात मुंबई के कुर्ला पुलिस स्टेशन के सामने किसी फिल्म-सा नजारा था। दो बीवियां पति को पीट रही थीं और बेटा बोल रहा था, पापा को मत मारो मम्मी।
दरअसल आरटीओ एजेंट अयूब शेख (41) की तीन शादियां हो चुकी हैं और वह चौथी करने की तैयारी में था। इस बात का पता जब उसकी पहली बीवी सरोज लगा तो उससे रहा नहीं गया और वह अयूब की दूसरी बीवी के घर यह बात बताने पहुंच गई।
बात जब अयूब की दूसरी बीवी को पता लगी तो वह भी गुस्से से लाल हो गई। दोनों ने तय किया कि वह अयूब को ऐसा नहीं करने देंगी। और जैसे ही अयूब घर आया दोनों ने उस पर हमला बोल दिया। दोनों बीवियां अयूब को मारते पीटते हुए सड़क पर ले आईं। लेकिन अयूब को पिटता देख उसके बेटे इरफान (17) को बरदास्त नहीं हुआ और वह पिता को मारने का विरोध करने लगा।
जब दोनों बीवियों ने इरफान की बात नहीं सुनी तो उसने पुलिस में अपनी मां सरोज के खिलाफ पिता को मारने की शिकायत दर्ज कर दी। मौके पर पुलिस पहुंची तो नजारा हैरान कर देने वाला था। दोनों बीवियां पति को लात-घूंसों से मार रहीं थी। पुलिस ने ऐसा देख अयूब को दोनों के चंगुल से बचाया और दोनों बीवियों से मामले में पूछताछ की।
पुलिस के मुताबिक सरोज और अयूब की दूसरी बीवी नहीं चाहती थी कि अयूब अब चौथी लड़की की जिंदगी बरबाद करे। इस लिए उन्होंने यह कदम उठाया।
कुर्ला पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विजय वागवे ने कहा कि हमने सरोज को सिर्फ वॉर्निग देकर छोड़ दिया है और अयूब के खिलाफ तीन बीवी के बावजूद चौथी शादी करने के जुर्म में मामला दर्ज कर लिया है।
- भास्कर से

प्रियंका का ऑटो प्यार

नई दिल्ली :  बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपडा को अपने बरेली के दिन याद आ ही गए। जब वे रिक्शा में बैठकर लुत्फ उठाया करती थी। लेकिन बॉलीवड की नामचीन हीरोईन का ठप्पा क्या लगा की पुरानी यादें भी मिट गई। लेकिन पिछले दिनों उनको ऑटो में सफर करते देखकर लगा की वे अपनी अतीत की यादों को ताजा करने में जुटी है। लेकिन कुछ नहीं था। दरअसल हुआ यूं कि प्रियंका को एक इवेंट में पहुंचना था। वे लेट हो रही थी और इस जल्दबाजी के चलते उनकी कार भी खराब हो गई। अब क्या था उन्होंने बिना देर किये एक ऑटो को हाथ दिया और उसमे बैठ गई। ऑटोवाला भी प्रियंका को अपने ऑटो में बैठा देखकर गद्गद् हो गया। खैर, प्रियंका इवेंट में देर से ही पहुंची। लेकिन पहुंच तो गई। इधर ऑटो वाले ने भी किराये के बदले में मिले रूपयों पर प्रियंका का आटोग्राफ भी!

- प्रेमबाबू शर्मा, दिल्ली

ठण्ड से बचने के लिए जाते है जेल

जेल जाने से सभी को डर लगता है लेकिन पंजाब के लुधियाना में हो रहा है इसका बिलकुल उल्टा गरीब मजदूर तबका के लोग खुद ही जेल जाने लगते हैं और इसके लिए सहारा लिया जाता है पुलिस का जो उनका मामूली से अपराध में चालान कर सके क्योंकि ठंढ में गरीब तबके के लोगों को सबसे बड़ी मुस्किल होती है रात काटने की और जेल उनके लिए वह सबसे सुरक्षित जगह होती है जहाँ उन्हें ठंढ से बचाव तो होता ही है खाने और दवाइयों का भी इंतजाम हो जाता है
आदमी अपने परिवार के लिए क्या नहीं करता है । पहले अपना घर छोड़ा और अब ठण्ड से बचाव के लिए जेल भी जाने को तैयार हो गया गरीबी आदमी के लिए सबसे बड़ा अभीशाप बन गया है ।

उत्तर प्रदेश और बिहार से लुधियाना में काम करने के लिए आने वाले मजदूरों काम करने का मौका नहीं मिल रहा है जिससे उनके सामने रोजी रोटी का संकट आ गया है और इसी लिए उन्होंने रास्ता निकला जेल जाने का जहाँ उन्हें खाने और सोने दोनों का सहारा मिल सके ।

नव वर्ष पर थिरकेगी अभिनेत्रियां

नई दिल्ली :  मुन्नी और शीला समेत दर्जनभर अभिनेत्रियां नव वर्ष के मौके पर नामचीन होटलो मै थिरकेगी . ताकि नववर्ष का जशन खुशनुमा बन सके. , चर्चा है कि इस बार आयोजित कार्यक्रमों में करीना कपूर, बिपासा बासु, कैटरीना कैफ, मल्लिका शेरावत, मलाइका अरोड़ा खान और सोनाक्षी सिन्हा जैसी हीरोईन एक रात के डांस के लिए एक करोड से तीन करोड ले रही है। और ले भी क्यों ना, होटल वाले भी अपने ग्राहकों से मनोंरजन के नाम पर मोटी रकम लेते है। अब खबर है कि इस बार इंकम टैक्स पूरी तरह से चौंकना हो गया है और उनकी पैनी नजर उन सब होटल और उसमें डांस करने वाली हीरोईनों पर है। जो डांस के नाम पर मोटी रकम लेगी। सूत्र की माने तो इस साल आईटी डिपार्टमेंट के इन्फोर्समेंट अधिकारी एक विजील स्कॉट बनाकर ऐसे तमाम न्यू ईयर पार्टियों पर पैनी नजर रखेगी। जहां एक ही रात में लाखों का वारा न्यारा होता हैं। एक खबर यह भी है कि मल्लिका नए साल के मौके पर उसी होटल में अपना कार्यक्रम देंगी। जहां मलाइका अरोड़ा खान भी नृत्य पेश करेंगी।

प्रेमबाबू शर्मा, दिल्ली

कील से दात के दर्द का इलाज

गोंडा-अयोध्या से सटे गोंडा जिले में अनेक देवी देवताओं के मंदिर हैं । उनमे से एक मंदिर बटुक भैरव नाथ का है जो गोंडा जिले के करनेलगंज कसबे में स्थापित हैं । जहा वटुक भैरवनाथ नगर पिता के रूप में जाने जातें है । इस मंदिर की विशेषता है कि यहाँ एक पुराने ज़माने का इमली का पेड़ है जहा पर कोई भी दात का रोगी मंदिर में दर्शन करके कील अपने दात में छु कर के पेड़ में गाड देता है । तो अशाध्य से अशाध्य दात का दर्द ठीक हो जाता है । ये मंदिर अंग्रेज कर्नेल बयालू ने बनवाया था कर्नेल को सपना आया था कि इस जगह पर रेल लाइन न बनवाए वर्ना उसका सर्वे नाश हो जायेगा क्योकि यहाँ भैरो नाथ का निवाश है इस मंदिर में सभी मनोकामनाये पूरी हो जाती है ।
बटुक भैरो नाथ का पिंड के पास अंग्रेजो के ज़माने में जंगल था और रेल लाइन के लिए इस जंगल को कटवाया जा रहा था । ये निर्माण कर्नेल बयालू करा रहा था उसने जब यहाँ खुदाई करायी तो यहाँ पर एक पत्थर मिला जिसे उसने सरयू नदी में फिकवा दिया दुसरे दिन यही पत्थर वह फिर मिला लगातार वह खुदाई करने के बाद पत्थर वही निकलता कर्नेल बयालू को सपना आया और वो दहसत में आगया उसने मंदिर का निर्माड कार्य तब से यहाँ निरंतर पूजा होती है और मनोकामनाये पूरी होती है ।
इस मंदिर परिसर में एक अजूबा इमली का पेड़ है । जो बहुत पुराना है यहाँ दात दर्द के रोगी बटुक नाथ का दर्शन कर अपने दात में कील छु कर पेड़ में गाड देतें है । उनका दात दर्द ठीक हो जाता है। इस पेड़ में हजारो हजार कि संख्या में किले भक्तो कि निशानी बया करती है ।

Tuesday, December 21, 2010

कुत्ते के काटने पर मुकदमा

मेरठ के खरखोदा थाना क्षेत्र में एक महिला को कुत्ते ने काट कर घायल कर दिया बदले में घायल की तरफ से उसके पति ने कुत्ते के मालिक और कुत्ते पर मुकदमा दर्ज कराया है पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी है
मेरठ के खरखोदा थाना क्षेत्र के एक गाँव में दो दिन पूर्व वीना नाम की महिला को एक पालतू कुत्ते ने जबरदस्त तरीके से काट खाया महिला बुरी तरीके से घायल हो गयी थी इस कुत्ते ने इससे पहले भी कई लोगो को काट कर घायल कर रखा था उस वक़्त लोगो ने उस कुत्ते को मार गिराया लेकिन घायल वीणा उसके मालिक को भी सबक सिखाना चाहती थी सो उसने कुत्ते मालिक के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए तहरीर दे दी है! पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और कार्यवाही शुरू कर दी

वाहन चोर गिरोह का पर्दाफास

मुज़फ्फरनगर पुलिस ने अंतरराज्य वाहन चोर गिरोह का पर्दाफास करते हुए दो बदमासो को गिरफ्तार किये है और उनका एक साथी फरार बताया गया है! जिनके कब्जे से पुलिस ने दो कार बरामद करने का दावा किया है, जिनमे से एक कार सेवा-निवृत डिप्टी एस.पी. की है, जो की देहरादून से उनके आवास से चुराई गयी थी!
दरअसल उत्तराखंड के देहरादून में रह रहे डिप्टी एस.पी. की गत 15 दिसंबर को उनके आवास से सेंट्रो कार चुरा ली गयी थी, जिसकी उन्होंने रिपोर्ट दर्ज करा दी गयी थी! देहरादून पुलिस जहा अभी जाँच पड़ताल ही कर रही थी, वही मुज़फ्फरनगर की सिविल लाइन पुलिस ने SOG टीम के साथ मिलकर दो चोरो को दबोच लिया, जिनके कबसे से दो कार बरामद की गयी, जिनमे एक कार डिप्टी एस.पी. की है! पुलिस की सुचना पर देहरादून पुलिस मुज़फ्फरनगर आई और कार को अपने कब्जे में ले ली! जहा पकडे गये दोनों अभियुक्तों को जेल भेज दिए गये है, वही पुलिस फरार अभियुत की तलाश में जुट गयी है!

- अमित सैनी
मुज़फ्फरनगर
09837739873
09259178863

Monday, December 20, 2010

नकली सिमेन्ट की फैक्ट्री का भंडाफोड़

मुज़फ्फरनगर के सिखेडा छेत्र मे चल रही नकली सिमेन्ट की फैक्ट्री का भंडाफोड़ करते हुए पुलिस ने करीब बीस हजार सिमेन्ट के कट्टे (बोरे ) बरामद किए है पुलिस ने फैक्ट्री मालिक को हिरासत मे ले लिया है, जिससे पुलिस पुछताछ कर रही है
दरअसल मुज़फ्फरनगर के सिखेडा थाना के निराना गांव के जंगल मे चल रही इस फैक्ट्री मे डम्प सिमेन्ट को पहले पीसा जाता था, फिर उसमे पेपर मिल से निकलने वाली राख और लाईम स्टोन पावडर मिलाकर नया सिमेन्ट तैयार किया जाता था जिसके बाद उस सिमेन्ट को नए बोरो मे पैक कर बाजार से सप्लाई कर दिया जाता था! पुलिस ने मौके से २० हजार से भी अधिक नकली सीमेंट के कटते बरामद किये है और फैक्ट्री मालिक हिरासत में ले लिया गया है
एक और जहाँ पुलिस इस सिमेन्ट को मिलावटी और नकली बता रही है, वही फैक्ट्री मालिक की माने तो डम्प सिमेन्ट और राख व लाईम स्टोन पावडर मिलाकर बनाया गया सिमेन्ट असली सिमेन्ट होता है ये फैक्ट्री पिछ्ले 15-20 सालो से कोंटीनेंटल ACC सुरक्षा के नाम से चल रही है 2006 मे भी इस फैक्ट्री के विरुद्ध कारवाई हो चुकी है!

अमित सैनी
मुज़फ्फरनगर

पंचायत...पति-पत्नी बने भाई-बहन

मुंबई। अभी तक माना जाता था कि हरियाणा राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश जैसे इलाकों में ही खाप पंचायतों का कहर है। लेकिन मुंबई जैसे अतिविशिष्ट आधुनिक शहर ने इस मिथक को तोड़ दिया है। गुजराती मेघवाल पंचायत ने खाप शैली में फरमान जारी कर मुंबई में जातीय पंचायतों के विषबेल की मौजूदगी दर्ज करा दी है।
मुंबई में मेघवाल पंचायत ने एक गोत्र में व्याह रचाने वाले एक युवक-युवती को समाज से बाहर का रास्ता दिखा दिया है साथ ही उन्हें अब भाई-बहन की तरह रहने का तुगलकी हुक्म जारी किया है।
इस फरमान के बाद 10 साल से शादी-शुदा किरीट बारिया और उनकी पत्नी चंद्रिका बरिया की जिंदगी में तूफान मच गया है। मेघवाल पंचायत ने उनकी शादीशुदा जिंदगी को अवैध करार देकर उनका जीवन नरक के समान बना दिया है। अहम बात ये है कि उनके तीन बच्चे भी हैं जो अब बड़े हो चुके हैं। ऐसे में ये सवाल मौजूं हो गया है कि उन बच्चों के भविष्या का क्या होगा?
जानकर हैरानी होगी कि खुद को कानून से ऊपर मानने वाले पंचायत के दबंग फैसले में तब्दीली और रहम को भी तैयार नहीं हैं।
गौरतलब है कि 2008 पंचायत द्वारा जारी फरमान के तहत एक ही सरनेम और एक ही गोत्र के लड़की-लड़के भाई-बहन माने जाते हैं। और वे आपस में शादी नहीं कर सकते।
- भास्कर से

..जब चलने लगी अश्लील फिल्म!

ढाका. बंगलादेश के एक मुख्य हवाईअड्डे पर मौजूद लोग उस वक़्त हतप्रभ रह गए जब यहां लगे एक बड़े टीवी स्क्रीन पर अचानक ब्लू फिल्म चलने लगी। बताया जा रहा है कि एयरपोर्ट पर लगी यह टीवी हवाई जहाजों के आगमन और प्रस्थान का समय दर्शाती थी।
टीवी स्क्रीन पर इस तरह अश्लील फिल्म के चलने से यहां के नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने बेहद कड़ा रुख इख़्तियार करते हुए जांच का आदेश दिया है।
यह मामला बंगलादेश के हज़रत शाहजलाल एयरपोर्ट का है माना जा रहा है कि इस घटना के पीछे यहीं के कुछ शरारती तत्वों का हाथ हो सकता है।
- भास्कर से

“ना आना इस देश लाडो” ने पूरा किया 500 का आंकडा

नई दिल्ली : कलर्स धारावाहिक ‘ना आना इस देश लाडो’ ने पांच सौ कडियों का आंकडा तो पार कर ही लिया है और चैनल ने कहानी को और रोचक बनाने के लिए उसमें थोडा फेर बदल भी किया है। साथ ही जोडे है कुछ नये कलाकार। इससे धारावाहिक में नया टिविस्ट नजर आयेगा। यह चैनल की अपनी सोच हैं।। नई कहानी के मुताबिक अम्माजी जो की लडकी जन्म विरोधी रही है ,लेकिन अब उसके घर में एक नही बल्कि दो पौतियां भी आ चुकी है। चूंकि शो में कहानी को 18 साल आगे बढा दिया गया है और इसके साथ ही कहानी वीरपुर जैसे गांव से निकलकर दिल्ली की आलीषान कालोनी का हिस्सा बन चुकी है। इस बारे में अम्माजी का किरदार निभा रहीं, मेघना मलिक कहती हैं कि वाकई यह रोचक अध्याय है अब उनपर ऐसा वक्त आया है कि वह अपनी पोती को पाल रही हैं। किन्तु उनको इस बात का भी दुख है कि कहानी का शहरीकरण होने से ग्रामीण दर्शकों को कही कहानी अपने से दूर लगेगी। लेकिन ये वायदा है कि शो उनकी कसौटी पर खरा उतरेगा। अब धारावाहिक में एक अंतराल के डाकू अंबा भी नजर आयेगी लेकिन वे इस बार अम्माजी की मददगार बन उनकी रक्षा करेगी।
- प्रेमबाबू शर्मा, दिल्ली


...तो बेरहम हो जाएगा सचिन का बल्ला!

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर का बल्ला अभी और तेज होगा। सचिन के सितारे बता रहे हैं कि 7 जनवरी के बाद से सचिन का खेल ज्यादा आक्रामक, बल्लेबाजी का अंदाज भी बेरहम हो जाएगा। शतकों का अर्धशतक लगाने के बाद वे शतकों का महाशतक भी जल्दी पूरा कर एक और स्वर्णिम इतिहास रचेंगे।
धनु राशि और कन्या लग्र में जन्म लेने वाले सचिन तेंदुलकर की कुंडली में पंचम भाव में मंगल अपनी उच्च राशि में है। मकर राशि में स्थित मंगल, सचिन को विपरीत परिस्थितियों से जूझने की शक्ति देता है और पराक्रमी बनाता है।
सचिन की जन्म कुंडली में चौथे भाव में धनु राशि के साथ चंद्र, राहु हैं और वर्तमान में चौथे भाव में चार ग्रह हैं जो सचिन को दृढ़ इच्छा शक्ति प्रदान करते हैं।
मंगल धनु राशि में भ्रमण कर रहा है। धनु सचिन की जन्म राशि है। 7 जनवरी को मंगल धनु राशि से निकल कर अपनी उच्च राशि मकर में प्रवेश करेगा तब सचिन का पराक्रम और बढ़ जाएगा। तब सचिन के बल्ले से रनों की बौछार होगी और सचिन शतकों का शतक पूरा कर लेंगे। अभी सचिन को राहु की महादशा में शुक्र की अंतर्दशा चल रही है और यह मार्च 2011 तक चलेगी। यह अंतर्दशा सचिन की फार्म बनाए रखेगी।
कल क्या था स्पेशल
19 दिसंबर को सचिन के लिए खास दिन था, सितारे भी मास्टर ब्लास्टर के पक्ष में थे। 19 को चंद्रमा वृषभ राशि में था, जो कि सचिन की जन्म राशि से छठे भाव में था। ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक छठे चंद्रमा से शत्रु पर विजय का विचार किया जाता है। 19 को चंद्रमा सचिन की कुंडली के छठे भाव में ही स्थित था, जिससे उन्होंने अफ्रीकी गेंदबाजी के खिलाफ अपने बल्ले से जौहर दिखाए।
- भास्कर से

डबल के बाद अब तीन सिम वाला मोबाइल बाज़ार में उतरा

ड्यूल सिम के मोबाइल के बाद अब बारी है तीन सिम वाले मोबाइल की। बाजार में इन दिनों एक ऐसा हैंडसेट आ चुका है जिसमें तीन सिम लगते हैं। इसका फायदा है कि जब आप अपने शङर से बाहर जाते हैं तो एक लोकल सिम भी डाल सकते हैं। यह फोन इस समय काफी लोकप्रिय हो चुका है।
इसमें क्वार्टी की पैड, 2 मेगापिक्सल कैमरा, वीडियो रिकॉर्डिंग, डिजिटल ऑडियो, प्लेयर, एफएम रेडियो वगैरह सभी सुविधाएं हैं।
- भास्कर से
मोबाइल हैंडसेट निर्माता कंपनी ओलिव का नया मोबाइल ओलिव विज़ बाजार तहलका मचा रहा है। यानि कि ट्विटर, फेसबुक, ईमेल सभी कुछ इसकी ईमेल सुविधा जबर्दस्त है। इसके 2.2 इंच कलर स्क्रीन में ईमेल देखने की अच्छी सुविधा है।

...और उड़ जाते हैं चीथड़े

जबलपुर. ऐसा लगता है कि वर्तमान समय में आदमी के अंदर से मानवीयता मर चुकी है। क्रूरता की सारी हदें पार करते हुए आदमी आदमखोर की भांति हो चुका है। अब वह जंगली जानवरों को भी निर्दयता से मारने में परहेज नहीं कर रहा है। ....ऐसी ही एक घटना डुमना रोड धोबी घाट के पास घटी,जिसके बारे में सुनते ही वन विभाग के पैरों तले जमीन खिसक गई। यहां पर दो शिकारियों ने सुअर मार बम में बकरे की चर्बी लपेटकर जंगल के बीचोंबीच रख दिया।
स्थल पर एक सियार पहुंचा और उसने बम में लिपटी चर्बी को खाने की कोशिश में मुंह से दबाया,उसके चीथड़े उड़ गए। उसका जबड़ा भी बुरी तरह से लहूलुहान हो गया और बम के फटते ही कुछ दूर तक वह यहां वहां भागने लगा और आगे जाकर उसने दम तोड़ दिया।
पता चला है कि डुमना रोड धोबीघाट स्थित जंगल में शिकारियों के होने की सूचना जीसीएफ निवासी राजेन्द्र शर्मा ने एंटी पोचिंग विभाग के प्रभारी आरके कुमरे को गत दिवस दी थी। एंटी पोचिंग ने सूचना को गंभीरता से लेते हुए सुबह लगभग 4 बजे जंगल में डेरा डाला और शिकारियों की खोजबीन शुरू कर दी।
रास्ते में उन्हें कुछ खून के निशान मिले। इसी आधार पर वे आगे बढ़ते रहे, तभी उन्हें दो लोग नजर आए,उन्होंने पूछताछ की और संदिग्ध दिखाई देने पर उनकी तलाशी भी ली।
बकरे के मांस में मिलाकर बेचते हैं
आरोपियों से कड़ी पूछताछ की गई,तब जाकर उन्होंने बताया कि वे सियार के मांस को खाते भी हैं और इसे बकरे के मांस में मिलाकर बेचते भी हैं। पकड़े गए लालमाटी चांदमारी निवासी जहर सिंह और विक्रम बताए जाते हैं। दोनों रिश्ते में चाचा-भतीजा हैं। विक्रम दमोह जिले का रहने वाला बताया जाता है।
भतीजे को कुछ नहीं पता
पूछताछ में विक्रम ने वन विभाग के अधिकारियांे को बताया कि वह जबलपुर रहने के लिए आया था और चाचा उसे घुमाने के बहाने जंगल ले आए थे। दोनों आरोपियों के विरुद्ध वन्य प्राणी अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत कार्रवाई की गई है और उन्हें सिविल लाइन थाने में रखा गया है।
सियार की मौत के बाद उसे वेटरनरी कॉलेज लाया गया, जहां पर उसका पोस्टमार्टम किया गया।
जीभ ने खोला राज
तलाशी में वन विभाग के अधिकारियों को दोनों व्यक्तियों में से एक की पैन्ट की जेब से पत्ते में लिपटी हुई एक जीभ मिली, जिससे उनका शक और पक्का हो गया। यह जीभ सियार की थी, जो उन्होंने निकालकर जेब में रख ली थी।
- भास्कर से

छोटे पर्दे पर किंग खान की वापसी

नई दिल्ली : केबीसी में अमिताभ बच्चन और बिग बॉस में सलमान खान के आने के बाद में अब शाहरूख खान भी जल्द ही छोटे पर्दे पर जल्द आने वाले इमेजिन टीवी के एक नए शो में नजर आयेगें। आखिर इसका नाम क्या है? सूत्र बताते है कि शाहरुख खान इमेजिन टीवी के लिए बनाए जा रहे एक शो ‘जोर का झटका’ को होस्ट करेंगे। गौरतलब है कि शाहरुख खान इससे पूर्व में टीवी पर ‘केबीसी’ और ‘क्या आप पांचवीं पास से तेज हैं’ जैसे रिएलिटी शो के लिए एंकरिंग कर चुकें है। ‘जोर का झटका’ एक अमेरिकी शो पर आधारित है, जे पूरी तरह से रहस्य रोमांच और हास्य से परिपूर्ण है। जिसमें प्रतियोगी कभी डर का अहसास करेगा तो, तो कभी हंसते हुए लोटपोट हो जाता है। लेकिन दर्शक इन दोनों ही स्थितियों का भरपूर मजा लूटते हैं। इस शो के बारे में किंग खान का कहना है कि लोगों को लगता है कि यह शो ‘खतरों के खिलाड़ी’ की तरह होगा जबकि है उससे एकदम अलग है। इसमें प्रतियोगी को डराने के लिए किसी जहरीले जीव की अपेक्षा सिर्फ डर का ही इस्तेमाल किया जाएगा। साथ ही कहते है कि अपने जीवन में खुलकर हंसना भूल गए हैं। लेकिन इस शो में घटित प्रसंग ही हमें हंसने के लिए मजबूर करेगा। शाहरुख, के अलावा इस शो में फिजिकली फिट सेलिब्रिटी और अनफिट दोनों ही तरह की सेलिब्रिटी भी नजर आएगी।

- (प्रेमबाबू शर्मा, दिल्ली

Saturday, December 18, 2010

कार में घूमती है भैंस, शराब पी करती है डांस

करीब 730 किलो की भैंस को कार में घूमते देख हर आदमी को आश्चर्य होता है, लेकिन अल्बर्टा के स्प्रूसे ग्रूव के लोगों के लिए ये रोज़ की बात है। यहां के रहने वाले जिम साउटर और उनकी पत्नी लिंडा रोज अपनी ओपन कार में दो साल की भैंस बाइले को लेकर घूमते हैं।
बीयर पीने की शौकीन बाइले को लेकर वे एक पब में जाते हैं। बीयर पीकर वह डांस कर रहे लोगों के बीच जाकर थिरकने भी लगती है। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की साइंटिफिक टीम ने एक हफ्ते तक उनके साथ रहकर इस रिश्ते को कैमरे में कैद किया है।

(भास्कर से )

देशी "वीरू" के लिए टंकी पर चढ़ी विदेशी बसंती

जैसलमेर. स्थानीय युवक के प्यार में दीवानी हुई विदेशी युवती युवक को अपने साथ ले जाने के लिए पानी की टंकी पर चढ़ गई और आत्महत्या करने की धमकी देने लगी।
बाद में विदेशी युवती को समझाकर नीचे उतारा। तब जाकर मामला शांत हुआ प्राप्त जानकारी के अनुसार ब्राजील की एड्रीना बाईपास रोड स्थित एक होटल में ठहरी थी। दोपहर दो बजे वह होटल के सामने स्थित ओवर हेड टैंक पर चढ़ गई और अपने प्रेमी का नाम लेकर जोर-जोर से चिल्लाने लगी।
मामूली बात को लेकर जिद्द पर अड़ी: जानकारी के अनुसार एड्रीना अपने दोस्त भवानी को एक दो दिन में ही वापस ब्राजील ले जाना चाहती थी। भवानी ने एड्रीना से दस दिन बाद चलने को कहा। इस बात से नाराज होकर एड्रीना होटल के सामने बने ओवर हेड टैंक पर चढ़ गई। उसे नीचे उतारने के बाद भी वह नहीं मानी और जिद्द पर अड़ी रही। लेकिन काफी देर तक समझाने के बाद वह शांत हुई।
वरमाला पहनाने के बाद मामला हुआ शांत: शुक्रवार दोपहर में शुरू हुए इस घटनाक्रम का अंत शाम को हुआ। एड्रीना किसी की बात सुनने को तैयार नहीं थी और भवानी को ब्राजील साथ ले जाने पर अड़ी हुई रही। सूत्रों के अनुसार समझाईश के बाद दोनों ने एक दूसरे को वरमाला पहनाई और आगामी 10 जनवरी को ब्राजील जाने पर सहमति बनी।
ब्राजील में कर चुके थे शादी: सूत्रों के अनुसार एड्रीना करीब दो साल पहले जैसलमेर घूमने आई थी। उस दौरान उसे स्थानीय युवक भवानी से प्रेम हो गई। इसके बाद वह भवानी को अपने साथ ब्राजील ले गई। जहां उन्होंने शादी भी कर ली। शुक्रवार को हुई घटना के बाद एड्रीना ने पुलिस को शादी के कागजात भी दिखाए।
वीरू की जगह बसंती चढ़ी टंकी पर: शुक्रवार को सुपर हिट बॉलीवुड फिल्म शोले का दृश्य एकबारगी लोगों के सामने आ गया। फिल्म में जहां वीरू अपनी बसंती के लिए टंकी पर चढ़ गया था वहीं जैसलमेर में हुए इस घटनाक्रम में बसंती (एड्रीना) अपने वीरू (भवानी) के लिए पानी की टंकी पर चढ़ गई। घटना की जानकारी मिलते ही कई लोग मौके पर पहुंचे।
टंकी पर चढ़ किया आत्महत्या का प्रयास: एड्रीना शुक्रवार को आत्महत्या की नीयत से होटल के सामने स्थित पानी की टंकी पर चढ़ गई। उसे समझा-बुझाकर नीचे उतारा गया। एड्रीना के अनुसार उसने भवानी से ब्राजील में शादी की है। वह उसे अपने साथ ले जाने की जिद्द कर रही थी। ब्राजील एम्बेसी से संपर्क करने का प्रयास किया जा रहा है। लगभग मामला शांत हो चुका है। - अंशुमान भोमिया, पुलिस अधीक्षक, जैसलमेर

(भास्कर से )

जानकारी मिलते ही पुलिस अधीक्षक अंशुमान भोमिया मौके पर पहुंचे तथा विदेशी युवती को समझाने का प्रयास किया। लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली। बाद में होटल में ठहरे एक अन्य विदेशी पर्यटक हिम्मत जुटाकर टंकी के ऊपर चढ़ा तथा समझाइश कर उसे नीचे ले आया। इस दौरान विदेशी युवती रोने लगी। पुलिस अधीक्षक व अन्य ने उसे शाम तक समझाने का प्रयास किया। काफी मशक्कत के बाद युवती मानी।

BOLD किरदारों से तौबा

नई दिल्ली : अनेकों धारावाहिकों में अपने दमदार किरदारों के द्वारा दर्शकों के बीच एक अलग पहचान बनाने वाली अभिनेत्री अचिंत कौर अब एक अलग किरदार में नजर आएगी जीटीवी के एक धारावाहिक में। एक लंबे अंतराल के बाद में जीटीवी पर वर्तमान में प्रसारित धारावाहिक झांसी की रानी में अब महत्वपूर्ण किरदार को निभा रही है ? आखिर उनका किरदार क्या होगा ? अचिंत कहती है कि धारावाहिक झांसी की रानी में मेरी भूमिका ओरछा की रानी की है जो तेजतर्राट और बहादुर के अलावा अंहकारी भी है। चुंकि यह एक ऐतिहासिक किरदार है और इसे निभाते हुए भी अच्छा लग रहा है क्योंकि अपनी जिंदगी में पहली बार इस प्रकार के किरदार को निभा रही हूं। उसका मतलब आप तलवार बाजी भी करती नजर आयेगी? जी हॉ। अचिंत कहती है, “मैं इसमें स्टंट करने के अलावा तलवारबाजी भी करती नजर आउंगी। ये पहली बार है कि मैं एक ऐसे ऐतिहासिक धारावाहिक में भूमिका करने जा रही हूँ जो इतिहास के सुनहरे पृष्ठों को सामने ला रहा है। मुझे इसका सेट, कपड़े, ज्वैलरी, और सबसे बड़ी बात ये काम बहुत पसंद आया। ये सब ऐसा है जैसे आप समय के उस दौर में पहुंच गए हैं जिसके बारे में आपने इतिहास की पुस्तकों में पढ़ा है।“ अपने शानदार व्यक्तित्व, ऊंचाई और रौबदार चेहरे की वजह से अचिंत इस भूमिका के लिए निश्चित ही एक सही चुनाव है। गौरतलब है कि अचिंत कौर की अब तक छवि एक बोल्ड अभिनेत्री के रूप में रही है। उनके चर्चित धारावाहिकों में बनेगी अपनी बात, स्वाभिमान में सोहा में उन्होंने एक ऐसी महत्वाकांक्षी और रौबदार महिला की भूमिकाओं से अपनी पहचान बनाई जो अपने रुतबे से कॉर्पोरेट की दुनिया पर कब्जा जमाना चाहती है। अचिंत कौर एक ऐतिहासिक पात्र की भूमिका करने को लेकर बेहद रोमाँचित है। मैं इस भूमिका के लिए इंतजार ही कर रही थी।

- प्रेमबाबू शर्मा, दिल्ली

ट्रक ने एक ही परिवार के 8 सदस्यों को कुचला

बाराबंकी जिले में एक ट्रक के अनियंत्रित होकर सड़क किनारे बनी झोपड़ी में घुस जाने से पांच बच्चों सहित एक ही परिवार के आठ लोगों की मौत हो गई जबकि चार अन्य गम्भीर रूप से घायल हो गए। पुलिस के मुताबिक यह हादसा जिले के टिकैतनगर कस्बे में आधी रात को उस समय हुआ जब तेज रफ्तार से आ रहा एक ट्रक दरियाबाद मोड़ के पास अनियंत्रित होकर राम गुलाम नामक व्यक्ति की झोपड़ी में घुस गया। जिससे सात लोगों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि एक महिला ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। पीड़ितों में तीन महिलाएं और दो से आठ साल की उम्र के पांच बच्चे शामिल हैं। सभी घायलों का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है, जहां दो की हालत नाजुक बनी हुई है। घटना के बाद ट्रक चालक मौके से फरार होने में सफल हो गया।

राम मिलाई जोड़ी से बिदाई होगी प्रियल

नई दिल्ली :  जी टीवी धारावाहिक राम मिलाई जोड़ी से जल्द ही प्रियल की बिदाई होने जा रही है। आखिर क्यों ? बात साफ है कि प्रियल निर्माता की पहली पंसद नही बनी। आखिर अब प्रियल की जगह कौन लेगी ? चर्चा तो अनेक अभिनेत्रियों के नामों की है। लेकिन  सूत्र बताते है कि धारावाहिक में प्रियल की जगह लेगी सारा खान। वहीं साराखान जो बिग बॉस में अपनी आई झूठी शादी को लेकर से सुर्खियों में आई थी। चर्चा थी प्रियल को चलता करने के लिए एक कमसीन लडकी की जरूरत थी। हालात बदले और सारा को बिग बॉस से लोकप्रियता मिली तो राम मिलाई के निर्माता को सारा भा गई। अब खबर है कि सारा खान ने इस धारावाहिक की शूटिंग भी शुरु कर दी है। वे धारावाहिक राम मिलाई में मोना के किरदार को निभा रही है। क्या सारा खान मोना के किरदार के साथ न्याय कर पाएगी ? या फिर चंद कडियो कें बाद उनकी कोई और अभिनेत्री होगी ? अब यह तो समय ही बताएगा।
- प्रेमबाबू शर्मा, दिल्ली

बेटी को 2 साल तक कमरे में रखा कैद

मुंबई - एक सोसाएटी में रह रहे एक परिवार पर भुत प्रेत और काला जादू भगाने का ऐसा भुत सवार हुआ की माँ बाप ने 26 साल की अपनी ही बेटी को एक तांत्रिक के कहे अनुशार २ साल तक एक कमरे में कैद रखा
दरअसल मामला भुत प्रेत जैसी मनघडंत कहानी से जुडा हुआ है नीतू नाम की एक युवती पर तांत्रिक ने भुत प्रेत का साया होने की बात उसके माता पिता को बताई जिसके बाद दंपत्ति ने तांत्रिक से इसका उपाए पूछा तांत्रिक द्वारा बताये गए फार्मूले के अनुशार माँ बाप ने अपनी बेटी को २ साल से एक कमरे में कैद कर रखा था युवती को सोसायटी ने एनजीओ और पुलिस की सहायता से कालकोठरी से बाहर निकाला समय पर खाने और पीने की कमी की वजह से युवती का स्वास्थ्य खराब हो चुका था
जिस वजह से नीतू को आज़ाद कराने के बाद उसे इलाज के लिए एक चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है जहा उसका इलाज चल रहा है नीतू का वजन उसकी उम्र के अनुशार सामान्य वजन से आधा है उसके स्वास्थ्य पर ये असर २ साल से कैद भरी जिंदगी बिताने की वजह से पडा है


रेलकर्मियो की दबंगई

मुज़फ्फरनगर के बामनहेडी रेलवे स्टेशन पर रेलकर्मियो ने एक यात्री को कमरे में बंद करके मारपीट कर अधमरा कर दिया! यात्री का केवल इतना कसूर था कि उसने अपनी पत्नी से छेड़छाड़ का विरोध किया था! पीड़ित यात्री को मोजुदा लोगो ने कमरे का दरवाजा तोडकर बमुश्किल बहार निकला!
दरअसल मुज़फ्फरनगर के रामपुर तिराहा निवासी मनोज शर्मा अपनी पत्नी और बच्चो के साथ मेरठ जाने के लिए बामन हेडी रेलवे स्टेशन पर गया था, जहा पर रेल कर्मियों ने उसकी पत्नी का हाथ पकड लिया, जिसका विरोध करने पर रेल कर्मियों ने मनोज शर्मा को एक कमरे में खीच लिया और अंदर से दरवाजा अंदर से बंद कर जमकर उसकी पिटाई की! पीड़ित की आवाज सुन आसपास के लोगो ने कमरे का दरवाजा तोड़कर उसको बहार निकला! लेकिन तब तक रेलकर्मी उसको अधमरा कर चुके थे!
इतना सब कुछ होने के बाद भी रेलवे पुलिस के कहना है कि मामले कि जाँच पड़ताल कि जा रही है और जो भी सच्चाई सामने आएगी, उसी के आधार पर करवाई की जाएगी! रेलवे पुलिस द्वारा घायल मनोज शर्मा का मेडिकल परीक्षण कराया गया है!

अमित सैनी
मुज़फ्फरनगर

Friday, December 17, 2010

मुज़फ्फरनगर में नकली डीजल बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़

मुज़फ्फरनगर में नकली डीजल बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़ हुआ है जिसमे मौके से २५ हजार लीटर डीजल ,सैकड़ो ड्रम और ५ टैंकर बरामद किये है छापामारी के लिए गई टीम ने डीजल बनाने के उपकरण भी बरामद किये है जबकि फैक्ट्री में मौजूद कर्मचारी मौके से फरार हो गए
मुज़फ्फरनगर के थाना खतौली इलाके के दिल्ली देहरादून हाइवे पर चपराना फ़ार्म हाउस में बनी एस के ट्रेडर्स के नाम से एक नकली डीजल बनाने की फैक्ट्री चालाई जा रही थी इस फैक्ट्री का मैन गेट बंद कर नकली डीजल बनाने का गौरखधंदा पिछले काफी समय से खूब फल फूल रहा था बर्हस्पतिवार को  जब इस फैक्ट्री की सूचना जब एक मुखबिर ने जिलाधिकारी को दी तो उन्होंने जिला पूर्ति अधिकारी , एस ड़ी एम् खतौली , सी ओ खतौली के निर्देशन में एक टीम गठित कर फैक्ट्री में छापेमारी की कारवाही करने के निर्देश दिए जिसमे टीम ने जब फैक्ट्री में छापेमारी की तो वहा मौजूद कर्मचारी तो एक सीढ़ी के द्वारा दिवार फांदकर जंगलो में फरार हो गए मगर फैक्ट्री में भारी मात्रा में बना और अधबना डीजल बरामद हुआ
httनकली डीजल बनाने की फैक्ट्री का विडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करे   
यहाँ से २५ हजार लीटर डीजल , सैकड़ो ड्रम , और ५ तेल के टैकर बरामद किये गए है जिनमे से तीन टैंकर जमीन के अन्दर मिले है जिसमे डीजल को तैयार कर रखा जाता था छापेमारी के लिए गई टीम का कहना है की इस नकली डीजल की सप्लाई उत्तर प्रदेश के अलावा उत्तराखंड और हरियाणा में भी की जाती थी

अमित सैनी

इंजीनियर जनवरी माह से एक रुपए महीने के वेतन पर काम करेंगे

इंदौर. ग्रामीण यांत्रिकी सेवा में अधीक्षण यंत्री इंदौर के पद पर पदस्थ एम.के. जैन जनवरी माह से एक रुपए महीने के वेतन पर काम करेंगे। उन्हें लगभग 50 हजार रु.महीना वेतन मिलता है। यह शपथ उन्होंने खुद अपनी मर्जी से ली है।
इस संबंध में उन्होंने प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव सहित कुछ अफसरों को शपथ पत्र भी दे दिया है। इसमें उन्होंने कहा है कुछ षड्यंत्रकारी यह खबर फैला रहे है कि मेरा स्वास्थ्य खराब होने से मैं शासकीय सेवा करने में अयोग्य हो चुका हूं। लेकिन ऐसा नहीं है, मैं पूरी तरह स्वस्थ्य हूं।
मैं राज्य शासन पर किसी तरह का आर्थिक भार नहीं डालना चाहता जिससे माह दिसंबर-10 का जो वेतन जनवरी 2011 को भुगतान होगा उसमें केवल एक रु. ही लूंगा। जब तक शासकीय सेवा में रहूंगा तब तक एक रु. मासिक वेतन पर ही काम करूंगा।
स्टे लेकर फिर लिया पद : जानकारी के अनुसार नवंबर में श्री जैन केरल गए थे तब उन्होंने प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के अधीक्षण यंत्री डी.के. पचौरी को चार्ज दिया था।
उनके अवकाश पर रहते ही शासन ने उन्हें राऊ स्थित ट्रेनिंग सेंटर पर ट्रेनिंग कोआर्डिनेटर के पद पर अटैच कर दिया। श्री जैन ने कोर्ट की शरण ली जिसके बाद उन्हें स्टे मिला और उन्होंने पुन: अधीक्षण यंत्री का चार्ज लिया।
300 एकड़ जमीन है, गुजारा हो जाएगा
> एक रु. महीने पर नौकरी करने का निर्णय क्यों लिया?- पूर्व आएएएस एम.पी. राजन से मैं प्रभावित हुआ था। उन्हें देखकर ही निर्णय लिया है।> एक रु. में परिवार कैसे चलाएंगे?- अब मुझे सेवा करना है जिससे मैं व मेरा परिवार इसमें गुजारा कर लेगा।
हमारी सागर जिले में 300 एकड़ जमीन है, जिससे परेशानी नहीं आएगी।> आप सेवानिवृत्ति के निर्धारित समय तक नौकरी करेंगे? - फिलहाल एक साल तो मैं सोच रहा हूं कि नौकरी करूं। आगे बाद में देखेंगे। मुझे अभी नौकरी में किसी तरह की परेशानी नहीं है। (यह जवाब अधीक्षण यंत्री एम.के. जैन ने दिए हैं) {भास्कर से }

कमाल : पढकर हैरान रह जाओगे !!!!!!!!!!

आरती छाबड़िया को बॉलीवुड में अभी तक कोई खास पहचान तो नहीं मिल पाई मगर उन्हें अपनी ग्लैमरस छवि के लिए काफी जाना जाता है आरती के बारे में हाल ही में एक दिलचस्प बात सुनने को मिली है आरती को क्रिकेटर युवराज सिंह ने अपनी प्राइवेट पार्टी में बुलाया था
यह पार्टी पिछले दिनों मुंबई में क्रूज पर बीच समंदर में रखी गई थी इस पार्टी में आरती अपने साथ कंडोम लेकर आई थीं दरअसल यह बात तब सबको पता चली जब उनके हाथ का पर्स सबके सामने नीचे गिर गया और उसमें से एक फीमेल कंट्रासेप्टिव का पैकेट बाहर आ गया
वह यह देखकर हक्की बक्की रह गईं और झट से कंडोम का पैकेट उठाकर दोबारा पर्स में रख लिया और ऐसे दर्शाने लगी जैसे कुछ नहीं हुआ इस पार्टी में रक्षंदा खान और प्रिटी जिंटा भी पहुंचे थे
(भास्कर से )






Thursday, December 16, 2010

शादी के छह माह बाद पता चला कि उसका पति एक "महिला" है?

राउरकेला. राउरकेला में मिनती खटूआ उस वक्त सन्न रह गई जब शादी के छह माह बाद उसे कि उसका पति पुरुष नहीं, बल्कि एक महिला है।
ओडिशा के केंद्रापाड़ा जिले के मार्शाघाई अंचल की मिनती दीदी व जीजा के साथ रहती थी। वेस्को में कार्यरत मिनती के जीजा की दोस्ती डाबर कंपनी में काम करने वाले यहीं के सीताकांत राउतराय से हुई। परिवार की सहमति के बाद मिनती और सीताकांत के बीच शादी तय हुई।
एक-दूसरे से प्रेम बढ़ने के बाद मिनती एवं सीताकांत ने 13 सितंबर 2009 को पहले कोर्ट में एवं बाद में सेक्टर-6 स्थित शिव मंदिर में शादी कर ली। वह मिनती यह कहकर फुसलाता रहा कि उसने भगवान जगन्नाथ से मन्नत मांग रखी और उनकी पूजा के बगैर वह शारीरिक संबंध नहीं बना सकता। इस सबंध में सेक्टर-7 थाने में सीताकांत के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया है।

साईं बाबा के "घर" में घुसे चोर

मुज़फ्फरनगर में साईं धाम मंदिर में चोरी करते दो चोर पकडे गये, जिनमे एक चोर दिल्ली में एक गुरूद्वारे में खुला पाठ करता है ! पकडे गये चोरो से पुलिस ने लाखो रुपए की कीमत की चाँदी से बनी साईं बाबा के सिंघासन के पैर बरामद करने का दावा किया है, जबकि उनका एक साथी साईं बाबा की चाँदी की खडाऊ लेकर फरार हो गया
मुज़फ्फरनगर के सिविल लाइन थाने की रेलवे रोड पर सिथित साईं धाम मंदिर में बीती रात पुजारी को खट-खट की आवाज सुनाई दी तो उसने शोर मचा दिया, जिस पर मौके पर आये लोगो ने मंदिर में चोरी कर चाँदी का कीमती सामान चुरा ले जा रहे चोरो को चारो और से घेर लिया! लेकिन राजीव नाम का एक चोर साईं बाबा की चाँदी से बनी खडाव लेकर भागने में सफल हो गया, मगर दो चोरो दीपू और महेंद्र को लोगो ने मौके पर ही दबोच लिया! इतना ही नही उसी टाइम मुज़फ्फरनगर पुलिस का अनिल नमक सिपाही गस्त करते हुए वह जा पंहुचा था, जिसको देखकर चोर महेंदर ने मंदिर की छत्त पर चढ़ कर छलांग लगा दी, मगर पीछे से सिपाही अनिल भी उसके उपर कूद पड़ा और उसको मौके पर ही दबोच लिया!
दरअसल मूलरूप से कांसी निवासी महेंद्र और दीपू काफी दिनों से दिल्ली में रह रहे है, महेंदर जहा ऑटो रिक्शा चलता है, वही दीपू का दावा है की वो राजोरी गर्दन में स्थित गुरूद्वारे में खुला पाठ करता है और दोनों की काफी दिनों से जान-पहचान है! जिन्होंने ये भी बताया की बुध वार को बस द्वारा अपने गाव जा रहे थे !
 पूछताछ के दौरान जो कहानी पुलिस को पकडे गये दोनों चोरो ने बताई, वो बड़ी ही चोकने वाली है! उनका दावा है भागने वाला चोर उनको रस्ते में मिला था, जिसने उनको बीस- बीस हज़ार रुपए बतौर एक चोरी करने के दौरान केवल आने-जाने वालो पर नज़र रखने के देना तय किया था, जिसके चलते दोनों बीती रात उसके साथ चोरी करने चले आये और पकडे गये!

Wednesday, December 15, 2010

"गुलाल" में आने वाला है एक नया मोड

नई दिल्ली : स्फीयर ओरिजिन प्रस्तुति गुलाल में आने वाली कडियों में एक नया मोड आने वाला है। आखिर यह क्या मोड होगा। क्या उससे कहानी प्रभावित होगी ? जानकार सूत्रों की माने तो कहानी का विस्तार के साथ उसमें जल्द ही एक चादर मैली सी और हम आपके हैं कौन जैसी फिल्मों की तरह नाटकीय मोड़ आने वाला है। जिसमें बदलती परिस्थितियों के चलते नायिका अपने प्यार से समझौता कर लेती है। तो क्या गुलाल भी ऐसा ही करेगी ? धारावाहिक में गुलाल के किरदार को निभाने वाली मानसी पारेख इस बारे में कहती हैं, जी नहीं। यह सीरियल तो गांव में पानी की समस्या के बारे में है और इसकी कहानी फिल्म एक चादर मैली सी की कहानी से बिलकुल भी मिलती-जुलती नहीं है। लेकिन उनकी दबी जबान में प्यार के बलिदान की बात जरूर स्वीकारती है। कच्छ में पानी की कमी से जूझते के दो गांवों की पृष्ठभूमि पर आधारित इस सीरियल की कहानी गांव की एक जिंदादिल लड़की गुलाल के इर्द-गिर्द घूमती है। गुलाल ,वसंत को प्यार करती है लेकिन हालात पैदा होगे कि गुलाल वंसत के भाई से शादी कर लेगी।

- प्रेमबाबू शर्मा, दिल्ली

50 हजार में कर डाला बीवी का सौदा

हिसारडाबड़ा गांव की विधवा महिला रेखा रानी के पास मंगलवार शाम 7:30 बजे दिल्ली से एक फोन आया। रेखा ने फोन रिसीव किया तो दूसरी ओर से उसकी बेटी की आवाज सुनाई दी।
बेटी ने रोते हुए अपनी मां को बताया कि मां मुझे मेरे पति ने दिल्ली में जीबी रोड पर एक कोठे पर 50 हजार रुपए में बेच दिया है। अगर मुझे बुधवार सुबह तक यहां से मुक्त नहीं कराया गया तो ये लोग मुझे आगे बेच देंगे। बेटी के ऐसे अल्फाज सुनकर मां के हाथ पांव फूल गए। वह देर रात किसी तरह हिसार के सदर थाने पहुंची।
यहां आकर उसने अपनी व्यथा पुलिस को बताया। रेखा रानी ने बताया कि कई साल पहले उसके पति की मौत हो गई थी। उसने किसी तरह अपनी बेटी की शादी पांच साल पहले आदमपुर थाना क्षेत्र के गांव सदलपुर निवासी राजेंद्र के साथ की थी। करीब तीन साल पहले राजेंद्र अपनी बीवी को लेकर गुड़गांव चला गया। महिला की मानें तो करीब पांच महीने से उसकी बेटी से उसका संपर्क नहीं हो रहा था। वह अपने दामाद से इसका कारण पूछती तो वह किसी न किसी बहाने टालमटोल कर देता।
महिला ने बताया कि मंगलवार शाम उसके मोबाइल पर फोन आया। फोन रिसीव किया तो कई महीनों बाद बेटी की आवाज सुनाई दी। जब बेटी ने आपबीती बताई तो उसकी आंख से आंसू छलक आए।
पुलिस ने महिला की शिकायत पर उसके दामाद के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया। इसके बाद पुलिस ने महिला की बेटी को कोठे से बरामद करने के लिए रात को ही एक टीम दिल्ली के लिए रवाना कर दी। (सहयोग : भास्कर )

Friday, December 31, 2010

नए साल 2011 की हार्दिक सुभ कामनाये........

आप सभी को खबरी लाल परिवार की और से नए साल 2011 की हार्दिक सुभ कामनाये........

- आपका अपना .......


अमित सैनी
मुज़फ्फरनगर
09837739873

Thursday, December 30, 2010

कांग्रेस का वन दफ्तर पर प्रदर्शन

पुरे उत्तराखंड में हो रहे अवेध पदों के कतनो पर आज देहरादून के मुख्य वन अधिकारी का घेराव करते हुए कांग्रेसियो ने जोरदार नारेबाजी की और इस तरह से अवेध कटान पर रोष प्रकट किया कांग्रेसी नेता लाल चाँद शर्मा ने बोलते हुआ कहा की राज्य सर्कार की नुमाइंदो के चलते पुरे उत्तराखंड में इन अवेध केतनो पर रोक नहीं लग पा रही है जिस से उत्तराखंड में अवेध कटान लगातार जरी है

- संदीप अरोरा
देहरादून, 09927985001

खुद को अकेला महसूस करती नज़र आई U .K .D

उत्तराखंड की राजनीती में उबाल लाने वाली उतराखंड क्रांति दल खुद को अकेला महसूस करती नज़र आ रही है UKD के तीन में से एक ही विधायक के साथ UKD दो हिस्सों में बात गया है और राज्य सर्कार के विफल दावो की पोल खोलने में जुट गया है एक प्रेस वार्ता के दौरान UKD के केन्द्रीय संघठन मंत्री जय प्रकाश उपाध्याय ने बोलते हुआ कहा की UKD से समर्थन के दौरान नो बिन्दुओ पर गंभीरता से कार्य न कर पाने व् राज्यहित और जन्भाव्नाओ की अनदेखी करने की वजह से हम ग्लानी महसूस करते थे इसीलिए UKD ने इस भर्स्थ सर्कार के दामन को छोड़ पूर्ण रूप से राज्य की जनता के हित में लग गयी है और जनता की बात जन जन तक पंहुचा कर उनका विश्वास जीतेगी !
 
-- संदीप अरोरा
देहरादून, 09927985001

श्रम मंत्रालय भारत सरकार द्वारा कार्यशाला का आयोजन

देहरादून में श्रम मंत्रालय भारत सरकार द्वारा एक कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमे बतोर मुख्यअत्तिथि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल ''निशंक'' रहे
बीमा योजनाओ की जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री निशंक ने बताया की योजना के तेहत लगभग 247859 बी पी अल परिवारों को जल्द ही इसका लाभ मिलना शरू हो जायेगा इस योजना के तेहत सभी बी पी अल परिवारों को स्मार्ट कार्ड उपलब्ध करदिया गया है जिससे वो भारत में कही भी इस योजना ka लाभ ले सकेंगे इस योजना के बारे में बोलते हुए इस योजना को पूरी तरह सफल बनाने का पर्यास किये जाने का आह्वान किया !

- संदीप अरोरा
देहरादून, 09927985001

फरमान : स्कूल में मोबाइल सहित कई पाबन्दी

अम्बाला सिटी. ‘बच्चों लंबे बाल नहीं रखने और लो वेस्ट पैंट नहीं पहननी, स्कूल में मोबाइल लेकर नहीं आना और वाहन तो बिल्कुल नहीं चलाना’। जी हां, ये अम्बाला के एक स्कूल की खास काउंसलिंग का हिस्सा है। यह काउंसलिंग निरंतर हो रही है, जिसमें बच्चों के साथ पेरेंट्स को भी शामिल किया जाता है।
नाबालिग बच्चों द्वारा वाहन चलाने से तो शहर के सभी स्कूल परेशान है और बच्चों को रोकते ही हैं। लेकिन एसडी पब्लिक स्कूल ने इससे दो कदम आगे बढ़ते हुए बच्चों के कुछ स्टाइल और पहनावे को लेकर निरंतर काउंसलिंग करना शुरू कर दिया है। इसमें बार बार बताया जा रहा है कि स्टूडेंट्स को फैशन के नाम पर लंबे बाल रखने से परहेज करना है। उधर घुटनों तक या लो वेस्ट पेंट भी पहनकर नहीं आना है।
इसके बाद बात शुरू होती है मोबाइल और बच्चों के वाहन चलाने पर। थोड़े थोड़े समय बाद स्टूडेंट्स और पेरेंट्स की मीटिंग में यह सवाल किया जाता है कि बच्चे स्कूल में मोबाइल लेकर न आएं। मोबाइल रखने वालों पर सख्ती होगी। काउंसलिंग में विशेषतौर पर स्टूडेंट्स को फैशन के नाम पर लंबे बाल रखने से परहेज करने को कहा गया।
पेरेंट्स से भी सवाल, वाहन को लेकर नसीहत बहुत
बच्चों के वाहन चलाने को लेकर उक्त स्कूल ने कई विशेष मीटिंग ली हैं। इसमें पेरेंट्स से भी सवाल किया जाता है कि कोई गलती से भी बच्चों को वाहन न दे। प्रिंसिपल नील इंद्रजीत संधू कहती है कि बच्चों के व्यवस्थित बाल, पैंट आदि को लेकर हम बच्चों पर कोइ बंदिश लगाना नहीं चाहते, बल्कि उन्हे स्टूडेंट्स लाइफ के अनुशासन में बांधने की कोशिश है। मोबाइल और वाहन प्रयोग न करना उनके खुद के हित में है। - भास्कर से



ऍम के पी (पी जी) कालेज मै आनंदोत्सव

देहरादून के ऍम के पी (पी जी) कालेज मै आज आनंदोत्सव मनाया गया जहा देहरादून के कई कालिजो ने इस उत्सव में भागीदारी दर्ज कर इस आनंदोत्सव को सफल बनाया और यह उत्सव हदेवी कन्या पाठशाला पूर्व छात्रा परिषद् के तत्वधान में आयोजित किया गया जिसमे कई गंमंये अतिथि गानों ने इस आनंदौत्सव मेले का आन्द्लिया साथी छात्राव ने जमकर मस्ती भी की !

- संदीप अरोरा
देहरादून, 09927985001

94 वर्ष में बाप बने बुजुर्ग

हिसार/खरखौदा. सुनने में अपको बेशक अटपटा लगे लेकिन यह सौ फीसदी सच है कि खरखौदा में एक वृद्ध रामजीत 94 वर्ष की आयु में पिता बना है। जो मां की तरह बच्चे के पालन-पोषण में जुटा हुआ है।
कस्बे के वार्ड संख्या 9 के पास पिछले काफी समय से खेत में बने घर में अपना जीवन यापन करने वाला वृद्ध 94 वर्ष की आयु में बाप बना है। वृद्ध अपने घर में लड़के के रूप में आई संतान को पाकर बेहद खुश है। लड़के का नाम विक्रमाजीत रखा है।
लड़के के जन्म से उसे दोहरी खुशी इसलिए हुई है कि उसकी पत्नी शकुंतला जो पिछले काफी समय से मानसिक रोग से ग्रस्त थी वह भी पूरी तरह से स्वस्थ हो गई है और उनके घर में पुत्र रूपी चिराग आ गया। वृद्ध खुद भी अपने बच्चे का मां की तरह पालन पोषण करने में जुटा है। वृद्ध पिता बच्चे को अधिकतर समय अपने साथ रखता है और उसे खिलाता-पिलाता है।
वृद्ध पिता का कहना है कि 94 वर्ष के लंबे जीवन में उसने बहुत उतार-चढ़ाव देंखे हैं। जिसमें भारत पकिस्तान विभाजन के दौरान हुई हिंसा में भी उन्हें काफी परेशानी हुई । लेकिन उन्होंने हमेशा ही खेतों में परिश्रम किया है और आज भी वे पूरी तरह से एक्टिव हैं। वृद्ध पिता का कहना है कि भगवान ने उनकी सुन ली है जो उन्हें 94 वर्ष की आयु में पुत्र रत्न की प्राप्ति हुई है।
आस-पास के कालोनी वालों को जब इस बात का पता चला तो उन्होंने वृद्ध की हर संभव सहायता की। बच्चे को देखते के लिए उसके यहां तांता लग गया। कन्या महाविद्यालय प्रधान वेद प्रकाश दहिया ने भी उन्हें पूरी आर्थिक सहायता का आश्वासन दिया है। उनका कहना है कि संजोग से ऐसा देखने का मिलता है। किसी वृद्ध की मुराद इतनी उम्र में पूरी हुई हो। वे इन वृद्धों को पिछले काफी वर्षों से खेत में बने घर में रह रहे हैं और बच्चे को गाय का दूध पिलाते हैं। ताकि बच्चा पूरी तरह से स्वस्थ रहे।
- भास्कर से

विकलांगो का अपनी मांगो को लेगर गाँधी पार्क पर प्रदर्शन

उत्तराखंड में आज राष्टी दृष्टि हिन विकलांगो ने अपनी मांगो को लेगर गाँधी पार्क पर प्रदर्शन किया और राज्य सरकार को जमकर कोसा इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए संघठन के अध्यक्ष दिग्विजय सिंह का कहना था की सरकार उनकी चोद्हे सूत्रीय मांगो को सरकार ने हमेशा हमारे अनदेखा किया है जिसकी वजह से हम लोगो को सडको पर उतर कर प्रदर्शन करना पड़ा है- दिग्विजय सिंह (अध्यक्ष)

- - संदीप अरोरा
देहरादून, 09927985001

JOKER में सोनाक्षी सिन्हा...

नई दिल्ली :  फिल्म दबंग की सफलता के बाद में सोनाक्षी सिन्हा फराह खान की पहली पंसद बन गई है। अगर सरसरी तौर पर देखा जाए पूरी ही फिल्म में सलमान खान का साम्राज्य रहा, इसके बावजूद भी लोगों को सोनाक्षी का अंदाज पंसद आया। अब चर्चा है कि फराह खान अपनी फिल्म ‘तीस मारखां’ की कामयाबी के बाद में एक नई फिल्म जोकर बनाने जा रही है। जिसका जमीनी तौर पर काम भी शुरू हो चुका है। सूत्रों की माने तो फिल्म में अक्षय कुमार ही हीरो होगें और हीरोईन होगी सोनाक्षी सिन्हा। मजेदार बात यह है कि इस फिल्म का निर्देशन फराह नहीं करेगी तो फिर कौन होगें निर्देशक? जी हां, हम आपको बता ही देते है कि और कोई बल्कि फराह खान के पति शिरीष कुंदर।

- प्रेमबाबू शर्मा, दिल्ली

Wednesday, December 29, 2010

नरभक्षी माँ : खा गयी अपने मासूम बच्चे को

मुज़फ्फरनगर में दिल दहा ला देने वाला मामला सामने आया एक महिला ने नवजात शिशु को अपने मुह का निवाला बना लिया ! आस पास के लोगो ने जब ये नजारा देखा तो उस महिला से बच्चे को छिना ओर पुलिस को सुचना दी जिसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुचकर महिला को थाने ले गई ओर बच्चे को पोस्त्मार्तम के लिए भिजवाया देखने में ऐसा लगता है कि जैसे महिला अर्धविकसित है !
ज़रा गौर से देखिये इस महिला को जिसके मुह पर लगे खून के नीशान बया कर रहे है एक खौफनाक मंजर को , इस महिला ने एक नवजात शिशु को अपने मुह का निवाला बना लिया
इस बच्चे के हाथ ओर सर गयाब है आस पास के लोगो का कहना है कि इस महिला का ये बच्चा है जीके शारीर के अंगो को इसने खा लिया है बताया जा रहा है कि ये महिला थाना सिविल लाइन इलाके कि रेलवे रोड स्थित इस स्थान पर पिछले तीन दिनों से बैठी है ओर ये बच्चा इसी का है जबकि पुलिस मामले कि जाच में जुटी है कि ये बच्चा इसी महिला का है या फिर नहीं जो कि जाच के बाद ही साफ़ हो पायेगा बहराल महिला को थाने ले जाया जा चुका है ओर बच्चे के शव को पोस्त्मार्तम के लिए भिजवा  दिया  गया  है देखने में लगता है कि ये महिला दिमागी  तौर  से ठीक  नहीं है
- अमित सैनी
मुज़फ्फरनगर

सोतेली माँ धकेलना चाहती थी युवती को वेश्यावृत्ति के गोरख धंदे में

रायपुर। मेरी सौतेली मां शबाना परवीन देह व्यापार में ढकेलने की कोशिश कर रही है। उसे कुछ बाहरी लोगों के साथ भेजने की कोशिश की जाती है। मना करती हूं, तो दबाव डाला जाता है। जान से मारने की धमकी दी जाती है। पापा भी मेरी नहीं सुनते। मम्मी जैसा बोल रही हैं, वैसा करने को कहते हैं। यह सनसनीखेज बयान 18 साल की शालेय छात्रा का है।
झारखंड में रहने वाले युवती अपने सगे छोटे भाई और ममेरे भाई के साथ भागकर राजधानी पहुंची। उसे डर है कि पिता और उनके गुंडे उसे दोबारा पकड़ लेंगे। इसी आशंका से उसने मंगलवार को पुलिस अधिकारियों से मुलाकात कर थाने में लिखित बयान दर्ज करवाया।युवती के साथ उसका भाई रोशन और ममेरा भाई 27 साल का राजकुमार भी है। राजकुमार कोलकाता में थे। दो दिन पहले युवती छोटे भाई के तीन दोस्तों विनोद महतो, राकेश यादव और संजय कुमार यादव के साथ भागकर रायपुर चली गई। वे सोमवार रात 8 बजे रायपुर पहुंचे।
युवती ने बताया कि बाद में उसने अपने ममेरे भाई राज कुमार को भी बुलवाया जो मंगलवार सुबह फ्लाइट से रायपुर पहुंचा। मंगलवार को सुबह 11 बजे युवती अपने भाइयों के साथ दैनिक भास्कर कार्यालय पहुंची और दोनों फूट-फूटकर रोने लगे। भास्कर संवाददाता को इन लोगों ने पूरी परिस्थिति बताई। दोपहर बाद तीनों ने सिटी एसपी डा. लालउमेद सिंह से भी इसकी शिकायत की। सिटी एसपी ने युवती, उसके सगे भाई रोशन व राज कुमार का लिखित में बयान लिया है। उन्होंने अपने बयान में भी सौतेली मां और पिता पर दबाव डालकर देह व्यापार में ढकेलने का आरोप लगाया है।
दसवीं कक्षा में पढ़ने वाले युवती और रोशन झारखंड के रामगढ़ जिला स्थित कुज्जू शहर के नरसिंग कुमार के पुत्र-पुत्री हैं। नरसिंग सवरेदय निकेतन सहित दो स्कूल उसके पिता चलाते हैं। बच्चों ने यह भी आरोप लगाया कि उनकी सगी मां की मौत की वजह भी उनके पिता हैं।
तीनों पुलिस कस्टडी में सुरक्षित : सिटी एसपी डा. सिंह ने बताया कि तीनों अपनी सोतेली मां और पिता पर बेहद ही संगीन आरोप लगा रहे हैं। यह एक गंभीर जांच का विषय है। पुलिस ने बयान ले लिया है। तीनों को पुलिस की सुरक्षित कस्टडी में रखा गया है। इस मामले में झारखंड और बिहार पुलिस से बातचीत की जाएगी। एक टीम जांच के लिए भेजी जाएगी। तीनों की बातें थोड़ी संदेहास्पद भी लग रही है। इसकी जांच की जा रही है।
पुलिस इस मामले की पड़ताल के लिए बच्चों के बयान के बाद बिहार और झारखंड पुलिस से संपर्क करेगी। उनके माता-पिता और रिश्तेदारों से भी पूछताछ की जाएगी।
- दिपांशु काबरा, एसपी, रायपुर   (-भास्कर से )

सोमालिया के समुद्री क्षेत्र में लुटेरों के आतंक से रिहा हुआ संदीप

देहरादून ::-सोमालिया का समुद्री क्षेत्र में लुटेरों का आतंक अब भी जारी है जी हां ऐसा नहीं है कि यह लुटेरे किसी भी जहाज को अपना निशाना बनाते है बल्कि । यहां से गुजरने वाले मालवाहक जहाज ही इनका निशाना रहते हैं। इतना ही नहीं जहाज को सीमा तक सुरक्षित छोड़ना भी इन्हीं लुटेरों के जिम्मे होता है। कुछ ऐसा ही हुआ देहरादून के संदीप डग्वल के साथ जिस कंपनी में संदीप डंगवाल कार्यरत है उस कंपनी के 65 जहाज हैं। । इस दौरान बंधकों के साथ ज्यादती नहीं की जाती। इतना जरूर है कि फोन काट दिए जाते हैं और राशन सीमित कर दिया जाता है। लुटेरों ने पहले चौबीस घंटे तक पैसा गिना। इसके बाद अगले 12 घंटे जहाज में ही इसका बंटवारा किया गया। जिसके बाद वह जहाज छोड़कर उतर गए। लुटरों ने इसके बाद सोमालियाई सीमा तक अपने एस्कॉर्ट में ही जहाज को छोड़ा। हर्षमणि डंगवाल कहते हैं कि संदीप ने उन्हें बताया कि लुटेरों ने उनके साथ बुरा बर्ताव नहीं किया, लेकिन उन्हें सामान्य खाना-पीना दिया जाता था।
बरहाल कुछ भी हो आज संदीप के घर में जशन का माहोल है और उसके माता पिता भगवन का शुक्रिया अदा किया और उसकी लम्बी उम्र की कामना की !

- संदीप अरोरा

 देहरादून
 09927985001

बुलेट मोटरसाइकिल का मंदिर

भारत में हर वो चीज जिससे लगाव हो जाए उसका मंदिर बनाकर पूजा की जाने लगती है। जिस देश में इंसान भगवान बन जाए उसमें किसी मोटरसाइकिल का मंदिर बनना कोई बड़ी बात नहीं है। लेकिन राजस्थान के पाली जिले में बने बुलेट मोटरसाइकिल के इस मंदिर के पीछे की कहानी कुछ और है।
पाली जिले में बने बुलेट एनफील्ड मोटरसाइकिल के मंदिर के प्रति यहां के लोगों में काफी आस्था है। पाली जिले में बुलेट मोटरसाइकिल काफी लोकप्रिय भी है। पाली-जोधपुर रोड पर बने इस अनोखे मंदिर में मूर्ति के स्थान पर बुलेट 350 बाइक रखी गई है जिसे प्रसाद के तौर पर शराब भी चढ़ाई जाती है।
बुलेट बाबा के इस मंदिर में गांव वाले जहां फूल चढ़ाते हैं वहीं सड़क से गुजरने वाले बाइक सवार भी रुककर यहां सिर झुकाते हैं। वैसे बुलेट बाबा का यह मंदिर दुनिया में किसी मोटरसाइकिल का एकमात्र मंदिर हैं।
सुरक्षित यात्रा के लिए माथा टेकते हैं लोग
पाली से जोधपुर मार्ग पर गांव चोटिला के नजदीक पड़ने वाले इस मंदिर पर रोजाना सैंकड़ों यात्री रुककर सुरक्षित यात्रा के लिए प्रार्थना करते हैं। मंदिर पाली शहर से करीब 20 किलोमीटर दूर है।
क्या है मंदिर के पीछे की कहानी
स्थानीय लोगों के अनुसार यहां रखी गई मोटरसाइकल ओम सिंह की है। मोटरसाइकिल के पीछे ओमसिंह की तस्वीर भी रखी गई है जिसपर भी यात्री फूल चढ़ाते हैं। बताते हैं कि करीब 20 साल पहले ओम सिंह की यह बाइक यहां फिसलकर टकरा गई थी। इस दुर्घटना में ओमसिंह की मौत हो गई थी।
दुर्घटना के बाद बुलेट बाइक को थाने ले जाया गया था जहां से अगले दिन यह फिर से घटनास्थल पर ही मिली थी। शुरु में पुलिस को लगा कि यह किसी की शरारत होगी। बाइक को दोबारा थाने लाकर उसकी तेल टंकी खाली कर दी गई। लेकिन अगले दिन फिर यह बाइक घटनास्थल पर ही मिली।
जैसे-जैसे यह कहानी फैली आसपास के गांव के लोगों ने वहां एक मंच बनाकर यह मोटरसाइकिल रख दी। तब से इसकी पूजा का रिवाज शुरु हुआ। अब इस मंदिर का एक पुजारी भी है जो यहां नियमित पूजा करता है।- भास्कर से

ऍम के पी (पी जी) कोलिज में यूनियन विक प्रतियोगिता का शुबारम्भ

 देहरादून :-ऍम के पी (पी जी) कालेज देहरादून मई आज यूनियन विक प्रतियोगिता का शुबारम्भ किया गया जिसमे उतराखंड के कई कालेजो ने इस प्रतियोगिता में भाग लिया और सुगम संगीत लोक नृत्य जेसी प्रतियोगिताय की इस प्रोग्राम में महाविद्यालय की प्राचार्य डाक्टर इंदु सिंह ने समस्त प्रतियोगियों की प्रुस्कित किया व् उनका उत्सह वधान किया उन्होंने सिमिति को सफल आयोजन हेतु बाधाइया भी दी!
- संदीप  अरोरा 
देहरादून 
 09927985001

तेजी से काम करेगा कंप्यूटर

अगर आप भी अपने कंप्यूटर की धीमी रफ्तार से परेशान हैं तो आपके लिए खुशखबरी है। दरअसल अब एक ऐसी चिप को तैयार कर लिया गया है जिसकी मदद से आपका कंप्यूटर 20 गुना तेजी से काम करने लगेगा।
ब्रिटेन के ग्लासगो यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों द्वारा तैयार किए गए इस चिप में 1000 कोर हैं। जबकि आमतौर पर मौजूदा समय में इस्तेमाल किये जाने वाले कंप्यूटर्स में अधिकतम 16 कोर होते हैं। यानी इस खास चिप पर कोर की संख्या कई गुना ज्यादा है। जिसकी कदद से बड़ी से बड़ी फाइल भी चुटकियों में डाउनलोड हो जाएगी।
माना जा रहा है कि इस चिप का कमर्शियल प्रोडक्शन जल्दी ही शुरु हो जाएगा। और अगले साल ये आम खरीददारों के लिए बाजार में उपलब्ध होगा।-भास्कर से

विकलांगो का सचिवालय पर प्रदर्शन

देहरादून ::-उत्तराखंड के विकलांगो ने अपनी मांगो को लेकर आज देहरादून के गाँधी पार्क से रेली निकलते हुए प्रदेश सर्कार के खिलाफ अपना मोर्चा खोलते हुए नाराज़गी जाहिर की और अपनी मांगो को मनवाने के लिए सचिवालय का घेराव किया उनका आरोप है की प्रदेश सर्कार लगातार विकलांगो का शोषण करती आई है और उनकी मांगो पर कोई कारवाही नहीं कर रही है उनके प्रदेश अध्यक्ष बसंत थपलियाल ने मीडिया से रूबरू होते हुए प्रदेश सर्कार के इस सोतेले रवये पर एतराज़ जताया ........
- संदीप अरोरा 
देहरादून 
 09927985001

2010 का गम: अश्लीलता करके भी याना हुई हिट

साल 2010 कुछ मायनों में बॉलीवुड के लिए काफी अजीबो गरीब भी रहा यह तो सब जानते हैं कि सितारे पब्लिसिटी बटोरने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं मगर अश्लीलता की सारी हद पार कर जाएं ये शायद कोई न सोच पाए मगर इस साल मशहूर मॉडल याना गुप्ता ने अश्लीलता की ऐसी हदें पार की कि सब देखते ही रह गए
याना एक बच्चों के लिए रखे चैरिटी कार्यक्रम में बिना अंतः वस्त्र पहने ही पहुंच गईं याना की तस्वीरें इस कार्यक्रम में मौजूद एक फोटोग्राफर ने कैद कर ली और फिर क्या था हंगामा मच गया न्यूज चैनल,अख़बार,रेडियो,सोशल नेटवर्किंग साईट हर जगह याना के ऐसा करने की चर्चा जोरों पर रही याना को लोगों ने पेंटीलेस गर्ल का नाम तक दे दिया!! - भास्कर से




याना के ऐसा करने से उनपर अश्लीलता फैलाने का केस तक दर्ज हो गया
वहीं बाबूजी जरा धीरे चलो...आईटम सॉन्ग के बाद लगभग गायब हो चुकी याना को एक बार सुर्खियां बटोरने का मौका मिल गया
उन्हें एक मैंस मैगज़ीन ने एक करोड़ रुपए लेकर न्यूड होने का ऑफर तक दे डाला
हालांकि बाद में याना ने ऐसा कोई ऑफर मिलने की बात नकार दी मगर उन्होंने कहा कि अगर उन्हें ऐसा मौका मिलता तो वह न्यूड भी हो जाती


सैफ विंटर गेम्स-२०११/कार्यक्रम में कुछ फेरबदल

देहरादून ::-सैफ विंटर गेम्स-2011 के कार्यक्रम में कुछ फेरबदल किया गया है। गेम्स अब दस से 16 जनवरी के बीच आयोजित किए जाएंगे। इसका उद्घाटन केंद्रीय खेलमंत्री एमएस गिल करेंगे। समापन समारोह में योजना आयोग उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया भी शिरकत करेंगे। विंटर गेम्स फेडरेशन ऑफ इंडिया के प्रवक्ता पीसी थपलियाल ने बताया कि नए कार्यक्रम के अनुसार गेम्स का उद्घाटन देहरादून में दस जनवरी व इवेंट दस से 12 जनवरी के बीच जबकि औली में इवेंट 14 से 16 जनवरी के बीच होंगे। 16 को औली में सैफ विंटर गेम्स का समापन भी होगा। गेम्स का उद्घाटन केंद्रीय खेलमंत्री एमएस गिल करेंगे। इस बारे में फेडरेशन का आग्रह केंद्रीय खेलमंत्री ने स्वीकार कर लिया है। राज्यपाल माग्र्रेट आल्वा समापन समारोह की मुख्य अतिथि होंगी। इस मौके पर योजना आयोग उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया बतौर विशिष्ट अतिथि मौजूद रहेंगे। याद रहे 23 दिसंबर को फेडरेशन ने घोषणा की थी कि गेम्स नौ से 16 जनवरी के बीच आयोजित किए जाएंगे। अतिथियों की सहूलियत देखते हुए गेम्स कार्यक्रम में यह परिवर्तन किया गया है।


- संदीप अरोरा 
देहरादून
09927985001

Tuesday, December 28, 2010

कॉलगर्ल का हुजूम

रायपुर.राजधानी में इस बार नए साल के जश्न के लिए 500 से ज्यादा प्रोफेशनल कॉल गर्ल्स को बुलाए जाने की सूचना से पुलिस हैरान है। पुलिस को ऐसी जानकारी मिली है कि सबसे ज्यादा बुकिंग चुनिंदा होटल, क्लब, आउटर के फ्लैट्स, रेस्ट हाउस जैसी जगहों के लिए हो रही है।
हाल में पकड़ी गई कुछ कॉल गर्ल्स से पूछताछ में बड़े रैकेट चला रहा कई नामों का खुलासा हुआ है। ऐसे दो दर्जन से ज्यादा दलाल हैं, जो इस धंधे में सक्रिय हो चुके हैं।
विडंबना यह है कि पुलिस ऐसे ज्यादातर रैकेट के बारे में जानते हुए भी रेड मारने की हिम्मत नहीं जुटा पा रही। गली-मोहल्लों में दबिश देकर पुलिस छोटे-मोटे मामलों में ही उलझी हुई है।
पुलिस ने पिछले दिनों डेढ़ दर्जन से ज्यादा कॉल गल्र्स को गिरफ्तार किया है। उनमें से कुछ महिलाएं दलाल थीं, जिनका नेटवर्क सीधे तौर पर बड़े दलालों से जुड़ा हुआ है। पूछताछ में पता चला है कि इस बार खासतौर पर नए साल के जश्न के लिए बड़ी संख्या में युवतियों को देह व्यापार के लिए बुलाया गया है।
शहर और आसपास के इलाकों के हाई प्रोफाइल लोगों के बीच इन दिनों हर रोज दिल्ली, मुंबई, इंदौर और कोलकाता जैसे शहरों से कॉल गर्ल्स रायपुर पहुंच रही हैं। पुलिस को ऐसी जानकारी मिली है कि शहर के आसपास स्थित फार्म हाउस, चुनिंदा होटल, सरकारी गेस्ट हाउस में इनके ठहरने की व्यवस्था की गई है।
सबकुछ जुगाड़ पर आधारित है और इसमें सरकारी तंत्र के भी कुछ अफसर रैकेट को चलाने में शामिल हैं। कुछ खास होटलों में खास तरह के इवेंट इसलिए आयोजित करवाए जा रहे हैं, ताकि बाहर से कॉल गर्ल्स को भी बुलवाया जा सके।
दर्जनभर से ज्यादा बड़े इवेंट मैनेजर अपने ग्राहकों को लुभाने के लिए बड़े जोर-शोर से लगे हैं। उन्होंने अपने संपर्क की तमाम लड़कियों को रायपुर में बुलाया है।
पर्मानेंट ग्राहकों के लिए एनुअल पैकेज:
शहर के कुछ ऐसे प्रोफेशनल दलाल हैं, जिनके संपर्क सीधे बड़े राजनीतिज्ञ, नेता, उनके गुर्गे, शासकीय-गैर शासकीय ढेरों अफसर, व्यापारी, उद्योगपति और बड़े घरानों के बिगडै़लों से है।
इनमें से आधे तो पर्मानेंट ग्राहक हैं, जिनके लिए सालभर का पैकेज फिक्स है। यह ऐसा पैकेज है, जिसके तहत एक साल तक हर महीने 5-10 लड़कियां उन्हें नियमित रूप से सप्लाई होती है।
विदेशी लड़कियों की ज्यादा डिमांड :
शहर के खास ग्राहकों की बात करें, तो उनमें इन दिनों विदेशी कॉल गर्ल्स की ज्यादा डिमांड है। रशियन, ब्राजिलियन, थाई और एशियन देशों की कॉल गर्ल्स को ऐसे ग्राहकों के लिए बुलाया जाता है। खास होटलों और क्लब में ऐसी युवतियां के 10-50 लाख तक के पैकेज में बुक होने की खबर है। इनके लिए ग्राहक दिन तय कर दिया गया है।
कॉल गल्र्स में छात्राएं भी शामिल:
दिल्ली, मुंबई, चंडीगढ़, हैदराबाद, कोलकाता, इंदौर आदि शहरों में पढ़ाई कर रहीं स्कूल-कॉलेज की दर्जनों लड़कियां रायपुर में खास पैकेजों में बुलाई जा चुकी हैं। इंदौर के एक प्रतिष्ठित स्कूल की दो कॉल गल्र्स रायपुर में पहले पकड़ी जा चुकी हैं। पुलिस, क्राइम ब्रांच और महिला सेल इन दिनों गली मोहल्लों में चार-छह आरक्षकों के भरोसे सेक्स के नाम पर खाक छानने में लगी है।
अफसरों से पूछो तो उनका तर्क रहता है कि बड़े होटल और हाई प्रोफाइल मामलों में कौन हाथ डाले। वहां तो कार्रवाई करने के लिए पहले सबूत की जरूरत पड़ती है। अब जब तक पुलिस सबूत जुटए, तब तक तो जश्न पूरा भी हो जाए।
बहरहाल पुलिस पिछले डेढ़ महीने में आठ से ज्यादा देहव्यापार के मामलों को पकड़ चुकी है, लेकिन सभी मामले छोटी-मोटी गरीब लड़कियों से जुड़े हैं, जो 500-1000 रुपए में सौदा करती हैं। इनमें ग्राहक भी ऐसे होते हैं, जो छोटे-मोटे व्यापारी या गरीब-सामान्य तबके के होते हैं। - भास्कर से

महिला का सिर मुंडवाया

आलीराजपुर. प्रदेश के आलीराजपुर जिले में पंचायत ने एक शादीशुदा महिला का सिर मुंडवा दिया और उसके साथ मारपीट की गई। इसके कारण महिला के जबड़े में फ्रैक्चर हो गया।
पंचायत का आरोप है वह दूसरे समाज के युवक के साथ भाग गई थी जबकि महिला का कहना है कि उसका अपहरण किया गया था।
नेहतड़ा में रहने वाले अनसिंह की पत्नी केलबाई के मुताबिक,एक माह पहले गुजरात में मजदूरी के दौरान गांव के ही युवक भुरू ने उसका अपहरण कर अहमदाबाद में कैद कर रखा था।
मौका मिलने पर वह उसके चंगुल से छूटकर धार जिले में अपने मायके पहुंची और वहां से नेहतड़ा में अपने घर आ पाई। इसकी सूचना गांव के सरपंच मुकामसिंह और केलबाई के काका ससुर लालसिंह को मिली तो उन्होंने भिलाला समाज की पंचायत बुलाई।
पंचायत के मुताबिक,इतनी बड़ी घटना के साथ कोई महिला पति के साथ कैसे रह सकती है।
भरी पंचायत में लालसिंह ने बेल्ट से केलबाई की पिटाई कर दी। साथ ही उसका सिर भी मुंडवा दिया। अनसिंह की भी पिटाई की गई और दोनों को गांव निकाला दे दिया गया। बाद में केलबाई की शिकायत पर पुलिस ने सरपंच सहित १६ के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। चार लोगों को गिरफ्तार किया गया,12 आरोपी अभी फरार हैं।
सरकार का कहना
गृह मंत्री उमाशंकर गुप्ता और जिले के प्रभारी मंत्री महेंद्र हार्डिया ने कहा कि महिला के साथ अत्याचार को सहन नहीं किया जाएगा। पुलिस से विस्तृत रिपोर्ट लेकर सख्त कार्रवाई की जाएगी।
आयोग भी सख्त

मप्र राज्य महिला आयोग के सदस्य सचिव उमाशंकर नगाइच ने और मप्र मानवाधिकार आयोग के सदस्य विजय शुक्ल का कहना है कि घटना अत्यंत निंदनीय है। कलेक्टर से रिपोर्ट मंगाई जा रही है। उसी के आधार पर कार्रवाई की सिफारिश की जाएगी। - भास्कर से

Monday, December 27, 2010

....एक विवाह ऐसा भी

रायपुर.सुबह परिचय, दोपहर में अंगूठी और सगाई तथा शाम को पंडरी गुरुद्वारे में शादी। चार दिन में होने वाली सभी रस्में एक ही दिन में निभाई गईं। कटनी के संदीप मंगलानी ने नागपुर की शिल्पा राय का रायपुर में हाथ थामा। बढ़ती महंगाई और फिजूलखर्ची के दौर में सिंधी समाज ने यह अनुकरणीय मिसाल पेश की।
कटनी में जनरल स्टोर चलाने वाले संदीप के लिए उनके मामा छत्तीसगढ़ चेंबर ऑफ कामर्स के कोषाध्यक्ष अर्जुन दास ओचवानी और शिल्पा मोटवानी के मामा श्यामलाल घनश्याम दास डोडानी ने आपस में बात चलाई।
दोनों ने इसकी जानकारी अपनी बहनों ज्योति मंगलानी और रेखा मोटवानी को दी। दोनों अपने-अपने बच्चों के साथ रायपुर आए। रविवार की सुबह संदीप और उसकी मां ने लड़की देखी। उन्हें शिल्पा इतनी पसंद आई कि उन्होंने फौरन ही सगाई और अंगूठी रस्म का अनुरोध किया।
तुरंत ही रिश्तेदारों को फोनकर सूचना दी गई। वे जो भी साधन मिला उससे फौरन रायपुर पहुंचे। इस बीच सगाई और अंगूठी की रस्म निभाई गई। शाम को रिश्तेदारों के आने के बाद गुरुद्वारे में रीति-रिवाज के साथ विवाह भी संपन्न हो गया।नव दंपत्ति को पूरन लाल अग्रवाल, पोहूमल, कैलाश मुरारका, ललित जैसिंघ, अनिल गुरुबक्षाणी समेत परिजनों ने आशीर्वाद दिया।
नाच गाना होगा कि नहीं:
आनन फानन में शादी तय होने की जानकारी मिलने पर रिश्तेदारों ने तरह तरह के सवाल किए। ज्योति मंगलानी से परिजनों ने पूछा कि इतनी जल्दी शादी कैसे तय हो गई, अभी तो संदीप का जनेऊ नहीं हुआ है।
शादी में नाच-गाना, मेहंदी और बारात की रस्में होंगी कि नहीं? श्रीमती मंगलानी ने अपने भाई की सहायता से फौरन एक निजी होटल बुक कराया। वहां रिश्तेदारों की बातों के अनुसार सारी व्यवस्था की गई।
सब कुछ अचानक हो गया
शिल्पा की मां रेखा मोटवानी को तैयारियों की चिंता थी। ऐसे में उनके भाई श्यामलाल डोडानी उन्हें संबल दिया। व्यवस्था की जिम्मेदारी उन्होंने अपने हाथों में ली।
श्रीमती मोटवानी ने बताया कि अच्छे घर में बेटी की शादी का सपना देखा करती थी। आज वह साकार हो गया। लड़के वालों ने कोई मांग नहीं की है। उन्हें बस लड़की चाहिए।
- भास्कर
से

दांत से काटी पड़ोसी की नाक

कानपुर। बच्चों के अपमान का बदला लेते हुए एक नशेबाज पिता ने पड़ोसी की नाक काट ली। चीखने-चिल्लाने की आवाजें सुन कर पड़ोसी भाग कर मौके पर पहुंचे और बीच-बचाव किया। परिजनों ने घायल को उपचार हेतु अस्पताल में भर्ती कराया है। मामला बर्रा थाना क्षेत्र का है।
बर्रा कर्रही में किशन कुमार अपने परिवार के साथ रहता है। वह ट्रांसपोर्ट का काम करते हैं। उनके पड़ोस में ही जय किशोर का परिवार रहता। जयकिशोर रिक्शाचालक है। शनिवार की दोपहर जयकिशोर के बच्चे किशन कुमार के बगल में रहने वाले उसके भाई जितेंद्र के यहां टीवी देख रहे थे। तभी किशन वहां पहुंच गया और अपमान जनक जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल करते हुए बच्चों को वहां से भगाने को कहा। भाई को गुस्से में देखकर जितेंद्र ने भी बच्चों को घर से चले जाने को कहा।
शाम को जब जयकिशोर घर पहुंचा तो बच्चों ने पिता को सारी बात बताई। बच्चों के अपमान की बात सुनते ही जयकिशोर का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया। रात में शराब पीने के बाद नशे में वह किशन के घर में घुस गया और गाली-गलौज करने के साथ ही उसकी पिटाई कर दी। जब किशन ने किशोर पर हाथ उठाया तो किशोर में गुस्से में आ किशन की नाक दांत से काट ली। दर्द से किशन जोर-जोर चिल्लाने लगा। शोर सुन कर परिजनों समेत पड़ोसी भी वहां जमा हो गए। गंभीर रूप से घायल किशन को परिजन उर्सला ले गए।
जहां चिकित्सकों ने बताया कि काटने की वजह से नाक में घाव गहरा हो गया है ठीक होने में समय लगेगा। वहीं लोगों की सूचना पर बर्रा पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। एसओ का कहना है कि अभी तक उनकों तहरीर नहीं मिली है। अगर किसी के द्वारा मामला दर्ज कराया जाएगा तो कार्रवाई की जाएगी।
- भास्कर से

देहरादून में डकेतो का आतंक

देहरादून में एक बार फिर डकेतो ने एक परिवार को अपना निशाना बनाया और लाखो का सामान लेगर फुर्र हो गए घटना देहरादून के थाना नेहरु कालोनी क्षेत्र के श्रृष्टि विहार की है जहा डकेतो ने ससुर और बहु को बेहोश कर घर से कीमती सामान और इंडिका कार लेकर रफुचाकर हो गए ज्योतिशाचार्ये पंडित शिव प्रसाद उनियाल व् उनकी बहु इंदु को जब होश आया तो उन्होंने अपने घर में बिखरे हुए सामान और कीमती वस्तुओ को गायब देखा तो पुलिस को फ़ोन किया जब जाकर पुलिस मोके पर पहुची और पूरी घटना कर्म की जानकारी ली मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस ने आस पास के कई इलाको में सुचना दे दी है और चेकिंग अभियान जारी कर डकेतो की पकड़ धाकड़ में लग गयी है !
 
- संदीप अरोरा
देहरादून
09927985001



Saturday, December 25, 2010

अपने खून ने भी साथ ना दिया राजेश गुलाटी का

देहरादून के बहुचर्चित अनुपमा हत्याकांड के आरोपी राजेश अपने ही रिस्तो से टूटता नज़र आया जब उसी के जिगर के टुकडो ने अपने ही पिता से मिलने की कोशिश नहीं की और रो पड़े जी हां कोर्ट के फेसले के बाद महीने की हर चोथी तारिक को अपने बच्चो से मिलने के आदेश के बाद आज राजेश अपने बच्चो से तो मिला लेकिन बच्चो ने अपने पापा को सुविकर नहीं किया और रोते हुए कोर्ट में अपने मामा से मिलने की जिद करने लगे जिसके बाद कोर्ट ने उसी समय बच्चो को मामा की सुपुर्दगी मै भेज कर बच्चो को शांत कराया जिसके बाद बच्चो के मामा ने एक प्राथना पत्र में बच्चो के इस तरह से कोर्ट में मिलने पर आपत्ति जाहिर की जिसके बाद कोर्ट ने मामले देखते हुए फेसला सुरक्षित रखा और जनवरी छ को उस प्राथना पत्र की सुनवाई का निर्णेय किया है
और इसी मामले में राजेश के मुक़दमे से पीछे हते अधिवक्ता जे एस बिष्ट तो उसके बाद अब नए अधिवक्ता एस के वाधवा ने राजेश को इस मुक़दमे में कोर्ट में मदद करने की बात कहते हुए अपना वकालत नामा कोर्ट में दाखिल किया !

- संदीप अरोरा
देहरादून
09927985001



Friday, December 24, 2010

विवाहिता की गांव में ' नो एंट्री '

वाराणसी। उत्तर प्रदेश के शहर वाराणसी में पंचायत के एक फैसले के बाद प्रेमी और प्रेमिका को गांव में नो एंट्री का फरमान सुना दिया गया है। गुनाह यह है कि प्रेमिका पहले से ही शादीशुदा थी और अपने पति और भाभी के अवैध संबधों को जानने के बाद उसने यह कदम उठाया था।
देवताओं की नगरी वाराणसी के घमहापुर गांव में एक साल पहले ब्याही एक दुल्हन को जब पता चला कि उसके पति के संबंध उसकी भाभी से हैं तो वह सहन न कर सकी। पति से उपेक्षित रहने वाली नई नवेली दुल्हन को अपने पड़ोस में रहने वाले एक लड़के से प्यार हो गया।
एक दिन दोनों घर से भाग गए। और शादी कर ली। 15 दिन बाद जब वह अपने गांव लौटे तो पंचायत ने लड़की को गुनहगार बता गांव में घुसने से मना कर दिया।
जब लड़की ने अपने पहले पति की करतूतों का खुलासा किया तो पंचायत ने चुप्पी साध ली। स्थानीय पुलिस ने पूरे घटनाक्रम की पुष्टि की लेकिन किसी भी तरह की शिकायत दर्ज कराने की बात से इंकार कर दिया। - भास्कर से

मां ने रोने पर ली बच्चे की जान

यूं तो दक्षिण कोरिया इंटरनेट के प्रसार के मामले में दुनिया का अग्रणी देश है लेकिन वहां को लोगों को इसका खामियाजा भी उठाना पड़ रहा है। दक्षिण कोरिया में लोग इंटरनेट के इतने आदी हो गए हैं कि वो असल जिंदगी से ज्यादा वर्चुअल लाइफ को महत्व देने लगे हैं। खबर है कि इंटरनेट पर गेम खेलने की आदी एक महिला अपने बच्चे के रोने से इतना झल्ला गई कि उसने उसकी जान ही ले ली।
यह महिला लगातार चार घंटों से कंप्यूटर पर गेम खेल रही थी। इसी बीच उसके तीन साल के बेटे ने फर्श पर पेशाब कर दिया और रोने लगा। महिला इस पर इतना गुस्सा हो गई की उसने बेटे का गला घोंटकर उसकी जान ही ले ली।
दो बेटों की इस 27 वर्षीय मां ने अपने बेटे के शव को घर पर छुपाए तीन दिन तक छुपाए रखा। एक रिश्तेदार ने बच्चे के शव को देखकर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने किम नाम की इस महिला को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक यह महिला ऑनलाइन गेम्स खेलने की आदि थी और रोजाना दस घंटे तक कंप्यूटर पर गेम खेलती थी।
दक्षिण कोरिया सरकार के अधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक देश में करीब 20 लाख लोग ऑनलाइन गेम खेलने के आदि हैं। पिछले महीने ही एक किशोर ने गेम खेलने से रोकने पर अपनी मां की जान ले ली थी। उसके बाद इस किशोर ने अपनी भी हत्या कर ली थी। - भास्कर से

दादा-दादी ने रचाई शादी

कोटा.प्यार, मोहब्बत और दिल का जहां मामला हो, वहां उम्र कोई मायने नहीं रखती। कोटा के मदनमोहन 85 और द्रोपदी 65 की उम्र के हो गए तो क्या हुआ। 15 साल पहले एक मंदिर में हुई मुलाकात के दौरान नैन मिले तो चेन मिला और अब कोर्ट में शादी रचा एक दूजे के हो गए।
पहले यह सोचते थे कि जमाना क्या कहेगा, लेकिन फिर झिझक तोड़ी और कदम बढ़ाया और गुरुवार को स्पेशल मैरिज एक्ट के तहत जिला कलेक्टर टी रविकांत के समक्ष पेश हो कानूनन शादी के बंधन में बंध गए।
कलेक्टर के कक्ष में दोनों ने एक दूसरे को वरमाला पहनाई। कलेक्टर ने बुजुर्ग जोड़े के सुखमय जीवन की कामना के साथ शादी का प्रमाण-पत्र सौंपा। यह बुजुर्ग जोड़ा ज्यों ही कलेक्टर कक्ष से बाहर आया मौजूद लोगों की निगाहें इन पर टिक गई। यहां से ये अपने निवास किशोरपुरा चले गए।
एडवोकेट राजेन्द्र कुमार जैन ने बताया कि किशोरपुरा मैन रोड निवासी मदनमोहन शर्मा (85) एवं द्रोपदीबाई (65) ने 14 अक्टूबर 2010 को स्पेशल मैरिज एक्ट के तहत कलेक्टर के पास विवाह प्रमाणपत्र के लिए दरख्वास्त तथा दो शपथ-पत्र पेश किए थे।
15 साल पहले मथुराधीश मंदिर में हुई थी मुलाकात: मदनमोहन व द्रोपदी धाíमक प्रवृति के हैं। नियमित मंदिर जाते है। पहली बार दोनों की मुलाकात करीब 15 साल पहले पाटनपोल के मथुराधीशजी मंदिर में हुई थी। तभी से दोनों का परिचय था। बाद में दोनों साथ-साथ रहने लगे।
ना कोई आगे-पीछे..
द्रोपदी के पूर्व पति बद्रीलाल का देहांत 15 वर्ष पहले और मदनमोहन की पूर्व पत्नी का 25 वर्ष पूर्व देहान्त हो गया था। तभी से दोनों अकेले ही जिंदगी बसर कर रहे थे। शर्मा सेवानिवृत्त पुलिस अफसर है।
कोटा शहर में पहला मामला
एडवोकेट राजेन्द्र कुमार जैन ने बताया कि मदनमोहन एवं द्रोपदीबाई ने उम्र के इस पड़ाव में शादी करके अनूठी मिसाल पेश की है। कोटा शहर में इस तरह का पहला मामला है।
- भास्कर से


सजय गांधी अस्पताल में सफाई अभियान कार्यक्रम

नई दिल्ली : सामाजिक संस्था समर्पण द्वारा दिल्ली के मंगोलपुरी स्थित संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल में जैविक और सर्जरीकल कचरा हटाओ एंव स्वच्छता अभियान चलाया। एक सप्ताह तक चले इस सफाई अभियान में अस्पताल में मौजूद गंदगी व जैविक कचरे को हटा कर साफ किया गया। इस मौके पर संस्था के पदाधिकारियों में एडवोकेट वीरेन्द्र सिह,आजाद सिंह, केसी मलिक, बलवीर सिंह, संजय चावला और गीता चावला के अलावा अनेक कार्यकर्ता व अस्पताल से जुडे अधिकारी व डॉक्टर मौजूद थे। इस सफाई अभियान के मौके पर समर्पण के संस्थापक एडवोकेट वीरेन्द्र सिह ने बताया कि समर्पण के बीस कार्यकर्ताओं ने प्रत्येक वार्ड में फैली गंदगी फर्श और दीवारों एवं जैविक और सर्जरी कचरे को साफ करके अस्पताल को गंदगी मुक्त किया। पार्यावरण की रक्षा हेतू स्वच्छता अभियान आवश्यक है। इस स्वच्छता अभियान से हम मरीजों को स्वच्छ वातावरण देगें। वही जैविक कचरे से पर्यावरण को होने वाले नुकसान को भी कम कर सकेगें।
संस्था से जुडे आजाद सिंह और के सी मलिक ने बताया संस्था समर्पण का मकसद पूरे शहर को गंदगी मुक्त कर स्वच्छ वातावरण देना है। संस्था समय समय पर सफाई जागृति अभियान का आयोजन करती रहती है और अस्पतालों को ही चुनने के पीछे का कारण है मरीज अस्पताल में स्वस्थ होने के लिए आता। लेकिन गंदगी और बदबूदार वातावरण के कारण अपने साथ में अनेक तरह की बीमारियों को लेकर घर लौटता है। बलवीर सिंह और संजय चावला ने बताया कि हमने अपने इस अभियान के लिए संजय गांधी अस्पाताल मंगोलपुरी को ही इसलिए चुना है क्यों यहां चारों ओर गंदगी और बदबूदार वातावरण का माहौल था। संस्था के कर्ताओं ने मिलकर अस्पाताल में जगह जगह फैला सर्जरीकल व जैविक कूडा करकट, और बदबूदार चीजों का हटाकर वातावरण को पूरा तरह से गंदगीमुक्त कर दिया। संस्था की एक पदाधिकारी गीता चावला ने बताया सफाई अभियान के तहत संस्था समर्पण इससे पूर्व में पश्चिमी दिल्ली स्थित दीनदयाल अस्पताल सहित कई सार्वजनिक स्थानों को गंदगीमुक्त करके स्वच्छ चुकी है।

 
प्रेमबाबू शर्मा.... दिल्ली

Wednesday, December 22, 2010

वेश्याओं के मांस को भून खा जाता था वो

क्रॉसबो कानिबाल के नाम से कुख्यात ब्रिटेन के अपराधी को वेश्याओं की हत्या कर उन्हें खा जाने के मामले में उम्रकैद की सजा सुनाई गई है।
खुद को क्रॉसबो कानिबाल कहने वाला स्टीफन ग्रिफिथ्स वेश्याओं की हत्या कर उनके शरीर के कुछ हिस्सों को भूनकर खा जाता था। स्टीफन ने जांच अधिकारियों को बताया था कि उसने अपना शिकार बनी पहली दो महिलाओं के मांस को भूनकर खाया और तीसरी महिला के मांस को वो कच्चा ही खा गया।
ग्रिफिथ्स ने तीनों महिलाओं को एक बॉथरूम में काटा। वो इस बॉथरूम को स्लॉटरहाउस कहता था। 40 वर्षीय ग्रिफिथ्स क्रिमनोलॉजी का छात्र था और वो सीरियल किलर्स के बारे में पढ़कर सनकी हो गया था।
ग्रिफिथ्स ने सुजैन ब्लेमायर्स, शैली आर्मिटेज और सुसान रुशवर्थ नाम की तीन वेश्याओं की हत्या की अपने घर के पास ही की थी। कोर्ट में जुर्म साबित हो जाने के बाद ग्रिफिथ्स को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है।  - भास्कर से


 

भारत माता-श्रीकृष्ण की 'अश्लील तस्वीर'

मेरठ। - 'अब तो भारत माता और भारत के नेता एक जैसे ही हैं, इसलिए भारत माता की नहीं भारत के नेता की जय बोलनी चाहिए।'
- 'कृष्ण की भले 16 हजार गोपियां दीवानी रही हों लेकिन वह आज की किसी लड़की को पटा कर दिखाएं तो मानें।'
मेरठ के विश्वविद्यालय में चौधरी चरण सिंह जैसे नेता की जयंती पर आयोजित चार दिनी कार्यक्रम में आज की पीढ़ी के बच्चों के मुंह से ऐसी टिप्पणियां सुनना वाकई चौका देने वाला था। लेकिन उससे भी ज्यादा हैरानी वाली बात तो यह थी कि इन अपत्तिजनक टिप्पणियों पर प्रेक्षागृह में बैठे तमाम शिक्षक और कुलपति ठहाके ओर तालियां बजा रहे थे। और जिने अच्छा नहीं लगा वे कार्यक्रम बीच में छोड़ कर चले गए।
घटना सोमवार की है। विवि में चल रहे कार्यक्रम के दौराने छात्रों ने ऐसी टिप्पणियां की जिसमें देश, देशभक्ति और आस्था का मजाक उड़ाया गया। जिस पर मंगलवार को वीसी को सख्त कदम उठाना पड़ा।
सोमवार को हुए इस कार्यक्रम के बाद बड़ी संख्या में छात्र सड़क पर उतर आए और जमकर प्रदर्शन किया। छात्रों ने वीसी दफ्तर में भी जमकर हंगामा किया और सांस्कृतिक परिषद के मुख्य संयोजक का घेराव कर इस्तीफे की मांग की।
दरअसल छात्रों में देवी-देवताओं पर अशोभनीय टिप्पणियों और चित्रकला प्रदर्शनी में अश्लील पेंटिंग्स के माध्यम से धार्मिक भावनाओं को आहत करने पर विरोध की ज्वाला भड़की थी।
गुस्साए छात्र सबसे पहले यहां नेताजी सुभाष चंद बोस प्रेक्षागृह पहुंचे। उन्होंने पहले चित्रकला प्रदर्शनी में लगी विवादास्पद पेटिंग को तलाशा पर इसे पहले ही हटाया लिया गया था। प्रेक्षागृह के बाहर ही सांस्कृतिक परिषद मुख्य संयोजक/ महासचिव डा. असलम जमशेदपुरी तथा चीफ प्रोक्टर प्रो. योगेंद्र सिंह भी छात्रों को मिल गए। छात्रों ने वहीं डा. असलम का घेराव कर लिया। नारेबाजी तथा हंगामा कर डा. असलम से इस्तीफा देने की मांग की।
उनकी छात्रों से काफी देर तीखी नोकझोंक भी हुई। चीफ प्रोक्टर प्रो. सिंह ने कहा कि वीसी के समक्ष अपनी बात रखें। वह भी वहीं आ रहे हैं। इस पर छात्र वीसी कार्यालय में पहुंचे। वहां चीफ प्रॉक्टर तो पहुंचे पर डा. जमशेदपुरी नहीं गए। छात्रों ने वीसी प्रो. एनके तनेजा को घेर लिया।
विवि सांस्कृतिक परिषद भंग कर मुख्य संयोजक तथा अन्य दोषियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराने की मांग की। वीसी ने माना कि सोमवार को जो कुछ हुआ, वह बेहद गंभीर एवं शर्मनाक है। घंटों चले घेराव के बाद वीसी ने छात्रों को आश्र्वासन दिया कि आज शाम तक ही मामले में कार्रवाई सुनिश्चित कर अवगत करा दिया जाएगा।
बवाल के बढ़ने की आशंका में विवि प्रशासन ने मंगलवार को दोपहर बाद संकायाध्यक्षों की आपात बैठक बुलाई। साथ ही विवि सांस्कृतिक परिषद को तत्काल प्रभाव से भंग कर दिया गया। - सहयोग दैनिक भास्कर

कस्टमर को रिझाओ वरना पिटो

मुंबई। मुंबई में नए साल के स्वागत की तैयारियां होने लगी हैं। होटल से लेकर छोटे-छोटे बार तक इस बार ग्राहकों से मोटी कमाई करने के अलग-अलग पैतरें खोज रहे हैं। ऐसे में मुंबई के एक बार मालिक पर बार की ही दो डांसरों ने आरोप लगाया है कि वह उनसे ग्राहकों को रिझाने की बात कह रहा है। लेकिन जब उन्होंने ने ऐसा करने से मना कर दिया तो बार मालिक ने उनकी जमकर पिटाई की और नौकरी से निकाल दिया।
प्रिया के मुताबिक दोनों डांसरों का काम बार में डांस करने तक ही सीमित है और यह काम वह अपने घर की माली हालत को सुधारने के लिए करती हैं। रमेश की यह बात सुन कर दोनों ने ऐसा करने को इंकार कर दिया।
नीता बताती है कि उन दोनों के इंकार करने पर पहले तो रमेश ने उन्हें समझाया कि ऐसा करने पर उन्हें और बार को फायदा होगा। मालिक उन्हें ज्यादा पैसे देगा। लेकिन फिर भी प्रिया और नीता इस गंदे काम को करने के लिए तैयार नहीं हुईं तो रमेश और बार मालिक ने मिलकर दोनों को खूब पीटा और नौकरी से निकाल दिया।
दोनों पीड़ित बार डांसारों ने पुलिस में मामले की रिपोर्ट लिखवाई तो पुलिस ने रमेश को हिरासत में लेकर पूछताछ की। पुलिस के मुताबिक रमेश ने कहा कि ऐसा कुछ भी दोनों बार डांसरों को करने के लिए नहीं कहा गया था बल्कि वह दोनों आपस में लड़ती रहती थीं इसलिए उन्हें नौकरी से निकाल दिया गया। फिलहाल पुलिस ने रमेश को हिरासत में रख रखा है और दोनों बार डांसरों मेडिकल चेकअप के लिए भेज दिया गया है। मेडिकल चेकअप की रिपोर्ट के आधार पर मामले की आगे जांच की जाएगी।



प्रिया और नीता नाम की यह दो बार डांसर अरुण बार में पिछले चार सालों से काम कर रही थीं। अचानक बार मलिक को क्या सूझा कि उसने बार के कर्मचारी रमेश शेट्टी को दोनों डंसरों से वैश्यावृत्ति करने को कहा। रमेश ने मालिक की बात को प्रिया और नीता तक पहुंचाया और दोनों से नए साल की रात ग्राहकों संग हमबिस्तर होने की बात कही।

बीवियां सड़क पर धुनती रही, बेटा बाप को बचाता रहा

मुंबई। मंगलवार रात मुंबई के कुर्ला पुलिस स्टेशन के सामने किसी फिल्म-सा नजारा था। दो बीवियां पति को पीट रही थीं और बेटा बोल रहा था, पापा को मत मारो मम्मी।
दरअसल आरटीओ एजेंट अयूब शेख (41) की तीन शादियां हो चुकी हैं और वह चौथी करने की तैयारी में था। इस बात का पता जब उसकी पहली बीवी सरोज लगा तो उससे रहा नहीं गया और वह अयूब की दूसरी बीवी के घर यह बात बताने पहुंच गई।
बात जब अयूब की दूसरी बीवी को पता लगी तो वह भी गुस्से से लाल हो गई। दोनों ने तय किया कि वह अयूब को ऐसा नहीं करने देंगी। और जैसे ही अयूब घर आया दोनों ने उस पर हमला बोल दिया। दोनों बीवियां अयूब को मारते पीटते हुए सड़क पर ले आईं। लेकिन अयूब को पिटता देख उसके बेटे इरफान (17) को बरदास्त नहीं हुआ और वह पिता को मारने का विरोध करने लगा।
जब दोनों बीवियों ने इरफान की बात नहीं सुनी तो उसने पुलिस में अपनी मां सरोज के खिलाफ पिता को मारने की शिकायत दर्ज कर दी। मौके पर पुलिस पहुंची तो नजारा हैरान कर देने वाला था। दोनों बीवियां पति को लात-घूंसों से मार रहीं थी। पुलिस ने ऐसा देख अयूब को दोनों के चंगुल से बचाया और दोनों बीवियों से मामले में पूछताछ की।
पुलिस के मुताबिक सरोज और अयूब की दूसरी बीवी नहीं चाहती थी कि अयूब अब चौथी लड़की की जिंदगी बरबाद करे। इस लिए उन्होंने यह कदम उठाया।
कुर्ला पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विजय वागवे ने कहा कि हमने सरोज को सिर्फ वॉर्निग देकर छोड़ दिया है और अयूब के खिलाफ तीन बीवी के बावजूद चौथी शादी करने के जुर्म में मामला दर्ज कर लिया है।
- भास्कर से

प्रियंका का ऑटो प्यार

नई दिल्ली :  बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपडा को अपने बरेली के दिन याद आ ही गए। जब वे रिक्शा में बैठकर लुत्फ उठाया करती थी। लेकिन बॉलीवड की नामचीन हीरोईन का ठप्पा क्या लगा की पुरानी यादें भी मिट गई। लेकिन पिछले दिनों उनको ऑटो में सफर करते देखकर लगा की वे अपनी अतीत की यादों को ताजा करने में जुटी है। लेकिन कुछ नहीं था। दरअसल हुआ यूं कि प्रियंका को एक इवेंट में पहुंचना था। वे लेट हो रही थी और इस जल्दबाजी के चलते उनकी कार भी खराब हो गई। अब क्या था उन्होंने बिना देर किये एक ऑटो को हाथ दिया और उसमे बैठ गई। ऑटोवाला भी प्रियंका को अपने ऑटो में बैठा देखकर गद्गद् हो गया। खैर, प्रियंका इवेंट में देर से ही पहुंची। लेकिन पहुंच तो गई। इधर ऑटो वाले ने भी किराये के बदले में मिले रूपयों पर प्रियंका का आटोग्राफ भी!

- प्रेमबाबू शर्मा, दिल्ली

ठण्ड से बचने के लिए जाते है जेल

जेल जाने से सभी को डर लगता है लेकिन पंजाब के लुधियाना में हो रहा है इसका बिलकुल उल्टा गरीब मजदूर तबका के लोग खुद ही जेल जाने लगते हैं और इसके लिए सहारा लिया जाता है पुलिस का जो उनका मामूली से अपराध में चालान कर सके क्योंकि ठंढ में गरीब तबके के लोगों को सबसे बड़ी मुस्किल होती है रात काटने की और जेल उनके लिए वह सबसे सुरक्षित जगह होती है जहाँ उन्हें ठंढ से बचाव तो होता ही है खाने और दवाइयों का भी इंतजाम हो जाता है
आदमी अपने परिवार के लिए क्या नहीं करता है । पहले अपना घर छोड़ा और अब ठण्ड से बचाव के लिए जेल भी जाने को तैयार हो गया गरीबी आदमी के लिए सबसे बड़ा अभीशाप बन गया है ।

उत्तर प्रदेश और बिहार से लुधियाना में काम करने के लिए आने वाले मजदूरों काम करने का मौका नहीं मिल रहा है जिससे उनके सामने रोजी रोटी का संकट आ गया है और इसी लिए उन्होंने रास्ता निकला जेल जाने का जहाँ उन्हें खाने और सोने दोनों का सहारा मिल सके ।

नव वर्ष पर थिरकेगी अभिनेत्रियां

नई दिल्ली :  मुन्नी और शीला समेत दर्जनभर अभिनेत्रियां नव वर्ष के मौके पर नामचीन होटलो मै थिरकेगी . ताकि नववर्ष का जशन खुशनुमा बन सके. , चर्चा है कि इस बार आयोजित कार्यक्रमों में करीना कपूर, बिपासा बासु, कैटरीना कैफ, मल्लिका शेरावत, मलाइका अरोड़ा खान और सोनाक्षी सिन्हा जैसी हीरोईन एक रात के डांस के लिए एक करोड से तीन करोड ले रही है। और ले भी क्यों ना, होटल वाले भी अपने ग्राहकों से मनोंरजन के नाम पर मोटी रकम लेते है। अब खबर है कि इस बार इंकम टैक्स पूरी तरह से चौंकना हो गया है और उनकी पैनी नजर उन सब होटल और उसमें डांस करने वाली हीरोईनों पर है। जो डांस के नाम पर मोटी रकम लेगी। सूत्र की माने तो इस साल आईटी डिपार्टमेंट के इन्फोर्समेंट अधिकारी एक विजील स्कॉट बनाकर ऐसे तमाम न्यू ईयर पार्टियों पर पैनी नजर रखेगी। जहां एक ही रात में लाखों का वारा न्यारा होता हैं। एक खबर यह भी है कि मल्लिका नए साल के मौके पर उसी होटल में अपना कार्यक्रम देंगी। जहां मलाइका अरोड़ा खान भी नृत्य पेश करेंगी।

प्रेमबाबू शर्मा, दिल्ली

कील से दात के दर्द का इलाज

गोंडा-अयोध्या से सटे गोंडा जिले में अनेक देवी देवताओं के मंदिर हैं । उनमे से एक मंदिर बटुक भैरव नाथ का है जो गोंडा जिले के करनेलगंज कसबे में स्थापित हैं । जहा वटुक भैरवनाथ नगर पिता के रूप में जाने जातें है । इस मंदिर की विशेषता है कि यहाँ एक पुराने ज़माने का इमली का पेड़ है जहा पर कोई भी दात का रोगी मंदिर में दर्शन करके कील अपने दात में छु कर के पेड़ में गाड देता है । तो अशाध्य से अशाध्य दात का दर्द ठीक हो जाता है । ये मंदिर अंग्रेज कर्नेल बयालू ने बनवाया था कर्नेल को सपना आया था कि इस जगह पर रेल लाइन न बनवाए वर्ना उसका सर्वे नाश हो जायेगा क्योकि यहाँ भैरो नाथ का निवाश है इस मंदिर में सभी मनोकामनाये पूरी हो जाती है ।
बटुक भैरो नाथ का पिंड के पास अंग्रेजो के ज़माने में जंगल था और रेल लाइन के लिए इस जंगल को कटवाया जा रहा था । ये निर्माण कर्नेल बयालू करा रहा था उसने जब यहाँ खुदाई करायी तो यहाँ पर एक पत्थर मिला जिसे उसने सरयू नदी में फिकवा दिया दुसरे दिन यही पत्थर वह फिर मिला लगातार वह खुदाई करने के बाद पत्थर वही निकलता कर्नेल बयालू को सपना आया और वो दहसत में आगया उसने मंदिर का निर्माड कार्य तब से यहाँ निरंतर पूजा होती है और मनोकामनाये पूरी होती है ।
इस मंदिर परिसर में एक अजूबा इमली का पेड़ है । जो बहुत पुराना है यहाँ दात दर्द के रोगी बटुक नाथ का दर्शन कर अपने दात में कील छु कर पेड़ में गाड देतें है । उनका दात दर्द ठीक हो जाता है। इस पेड़ में हजारो हजार कि संख्या में किले भक्तो कि निशानी बया करती है ।

Tuesday, December 21, 2010

कुत्ते के काटने पर मुकदमा

मेरठ के खरखोदा थाना क्षेत्र में एक महिला को कुत्ते ने काट कर घायल कर दिया बदले में घायल की तरफ से उसके पति ने कुत्ते के मालिक और कुत्ते पर मुकदमा दर्ज कराया है पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी है
मेरठ के खरखोदा थाना क्षेत्र के एक गाँव में दो दिन पूर्व वीना नाम की महिला को एक पालतू कुत्ते ने जबरदस्त तरीके से काट खाया महिला बुरी तरीके से घायल हो गयी थी इस कुत्ते ने इससे पहले भी कई लोगो को काट कर घायल कर रखा था उस वक़्त लोगो ने उस कुत्ते को मार गिराया लेकिन घायल वीणा उसके मालिक को भी सबक सिखाना चाहती थी सो उसने कुत्ते मालिक के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए तहरीर दे दी है! पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और कार्यवाही शुरू कर दी

वाहन चोर गिरोह का पर्दाफास

मुज़फ्फरनगर पुलिस ने अंतरराज्य वाहन चोर गिरोह का पर्दाफास करते हुए दो बदमासो को गिरफ्तार किये है और उनका एक साथी फरार बताया गया है! जिनके कब्जे से पुलिस ने दो कार बरामद करने का दावा किया है, जिनमे से एक कार सेवा-निवृत डिप्टी एस.पी. की है, जो की देहरादून से उनके आवास से चुराई गयी थी!
दरअसल उत्तराखंड के देहरादून में रह रहे डिप्टी एस.पी. की गत 15 दिसंबर को उनके आवास से सेंट्रो कार चुरा ली गयी थी, जिसकी उन्होंने रिपोर्ट दर्ज करा दी गयी थी! देहरादून पुलिस जहा अभी जाँच पड़ताल ही कर रही थी, वही मुज़फ्फरनगर की सिविल लाइन पुलिस ने SOG टीम के साथ मिलकर दो चोरो को दबोच लिया, जिनके कबसे से दो कार बरामद की गयी, जिनमे एक कार डिप्टी एस.पी. की है! पुलिस की सुचना पर देहरादून पुलिस मुज़फ्फरनगर आई और कार को अपने कब्जे में ले ली! जहा पकडे गये दोनों अभियुक्तों को जेल भेज दिए गये है, वही पुलिस फरार अभियुत की तलाश में जुट गयी है!

- अमित सैनी
मुज़फ्फरनगर
09837739873
09259178863

Monday, December 20, 2010

नकली सिमेन्ट की फैक्ट्री का भंडाफोड़

मुज़फ्फरनगर के सिखेडा छेत्र मे चल रही नकली सिमेन्ट की फैक्ट्री का भंडाफोड़ करते हुए पुलिस ने करीब बीस हजार सिमेन्ट के कट्टे (बोरे ) बरामद किए है पुलिस ने फैक्ट्री मालिक को हिरासत मे ले लिया है, जिससे पुलिस पुछताछ कर रही है
दरअसल मुज़फ्फरनगर के सिखेडा थाना के निराना गांव के जंगल मे चल रही इस फैक्ट्री मे डम्प सिमेन्ट को पहले पीसा जाता था, फिर उसमे पेपर मिल से निकलने वाली राख और लाईम स्टोन पावडर मिलाकर नया सिमेन्ट तैयार किया जाता था जिसके बाद उस सिमेन्ट को नए बोरो मे पैक कर बाजार से सप्लाई कर दिया जाता था! पुलिस ने मौके से २० हजार से भी अधिक नकली सीमेंट के कटते बरामद किये है और फैक्ट्री मालिक हिरासत में ले लिया गया है
एक और जहाँ पुलिस इस सिमेन्ट को मिलावटी और नकली बता रही है, वही फैक्ट्री मालिक की माने तो डम्प सिमेन्ट और राख व लाईम स्टोन पावडर मिलाकर बनाया गया सिमेन्ट असली सिमेन्ट होता है ये फैक्ट्री पिछ्ले 15-20 सालो से कोंटीनेंटल ACC सुरक्षा के नाम से चल रही है 2006 मे भी इस फैक्ट्री के विरुद्ध कारवाई हो चुकी है!

अमित सैनी
मुज़फ्फरनगर

पंचायत...पति-पत्नी बने भाई-बहन

मुंबई। अभी तक माना जाता था कि हरियाणा राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश जैसे इलाकों में ही खाप पंचायतों का कहर है। लेकिन मुंबई जैसे अतिविशिष्ट आधुनिक शहर ने इस मिथक को तोड़ दिया है। गुजराती मेघवाल पंचायत ने खाप शैली में फरमान जारी कर मुंबई में जातीय पंचायतों के विषबेल की मौजूदगी दर्ज करा दी है।
मुंबई में मेघवाल पंचायत ने एक गोत्र में व्याह रचाने वाले एक युवक-युवती को समाज से बाहर का रास्ता दिखा दिया है साथ ही उन्हें अब भाई-बहन की तरह रहने का तुगलकी हुक्म जारी किया है।
इस फरमान के बाद 10 साल से शादी-शुदा किरीट बारिया और उनकी पत्नी चंद्रिका बरिया की जिंदगी में तूफान मच गया है। मेघवाल पंचायत ने उनकी शादीशुदा जिंदगी को अवैध करार देकर उनका जीवन नरक के समान बना दिया है। अहम बात ये है कि उनके तीन बच्चे भी हैं जो अब बड़े हो चुके हैं। ऐसे में ये सवाल मौजूं हो गया है कि उन बच्चों के भविष्या का क्या होगा?
जानकर हैरानी होगी कि खुद को कानून से ऊपर मानने वाले पंचायत के दबंग फैसले में तब्दीली और रहम को भी तैयार नहीं हैं।
गौरतलब है कि 2008 पंचायत द्वारा जारी फरमान के तहत एक ही सरनेम और एक ही गोत्र के लड़की-लड़के भाई-बहन माने जाते हैं। और वे आपस में शादी नहीं कर सकते।
- भास्कर से

..जब चलने लगी अश्लील फिल्म!

ढाका. बंगलादेश के एक मुख्य हवाईअड्डे पर मौजूद लोग उस वक़्त हतप्रभ रह गए जब यहां लगे एक बड़े टीवी स्क्रीन पर अचानक ब्लू फिल्म चलने लगी। बताया जा रहा है कि एयरपोर्ट पर लगी यह टीवी हवाई जहाजों के आगमन और प्रस्थान का समय दर्शाती थी।
टीवी स्क्रीन पर इस तरह अश्लील फिल्म के चलने से यहां के नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने बेहद कड़ा रुख इख़्तियार करते हुए जांच का आदेश दिया है।
यह मामला बंगलादेश के हज़रत शाहजलाल एयरपोर्ट का है माना जा रहा है कि इस घटना के पीछे यहीं के कुछ शरारती तत्वों का हाथ हो सकता है।
- भास्कर से

“ना आना इस देश लाडो” ने पूरा किया 500 का आंकडा

नई दिल्ली : कलर्स धारावाहिक ‘ना आना इस देश लाडो’ ने पांच सौ कडियों का आंकडा तो पार कर ही लिया है और चैनल ने कहानी को और रोचक बनाने के लिए उसमें थोडा फेर बदल भी किया है। साथ ही जोडे है कुछ नये कलाकार। इससे धारावाहिक में नया टिविस्ट नजर आयेगा। यह चैनल की अपनी सोच हैं।। नई कहानी के मुताबिक अम्माजी जो की लडकी जन्म विरोधी रही है ,लेकिन अब उसके घर में एक नही बल्कि दो पौतियां भी आ चुकी है। चूंकि शो में कहानी को 18 साल आगे बढा दिया गया है और इसके साथ ही कहानी वीरपुर जैसे गांव से निकलकर दिल्ली की आलीषान कालोनी का हिस्सा बन चुकी है। इस बारे में अम्माजी का किरदार निभा रहीं, मेघना मलिक कहती हैं कि वाकई यह रोचक अध्याय है अब उनपर ऐसा वक्त आया है कि वह अपनी पोती को पाल रही हैं। किन्तु उनको इस बात का भी दुख है कि कहानी का शहरीकरण होने से ग्रामीण दर्शकों को कही कहानी अपने से दूर लगेगी। लेकिन ये वायदा है कि शो उनकी कसौटी पर खरा उतरेगा। अब धारावाहिक में एक अंतराल के डाकू अंबा भी नजर आयेगी लेकिन वे इस बार अम्माजी की मददगार बन उनकी रक्षा करेगी।
- प्रेमबाबू शर्मा, दिल्ली


...तो बेरहम हो जाएगा सचिन का बल्ला!

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर का बल्ला अभी और तेज होगा। सचिन के सितारे बता रहे हैं कि 7 जनवरी के बाद से सचिन का खेल ज्यादा आक्रामक, बल्लेबाजी का अंदाज भी बेरहम हो जाएगा। शतकों का अर्धशतक लगाने के बाद वे शतकों का महाशतक भी जल्दी पूरा कर एक और स्वर्णिम इतिहास रचेंगे।
धनु राशि और कन्या लग्र में जन्म लेने वाले सचिन तेंदुलकर की कुंडली में पंचम भाव में मंगल अपनी उच्च राशि में है। मकर राशि में स्थित मंगल, सचिन को विपरीत परिस्थितियों से जूझने की शक्ति देता है और पराक्रमी बनाता है।
सचिन की जन्म कुंडली में चौथे भाव में धनु राशि के साथ चंद्र, राहु हैं और वर्तमान में चौथे भाव में चार ग्रह हैं जो सचिन को दृढ़ इच्छा शक्ति प्रदान करते हैं।
मंगल धनु राशि में भ्रमण कर रहा है। धनु सचिन की जन्म राशि है। 7 जनवरी को मंगल धनु राशि से निकल कर अपनी उच्च राशि मकर में प्रवेश करेगा तब सचिन का पराक्रम और बढ़ जाएगा। तब सचिन के बल्ले से रनों की बौछार होगी और सचिन शतकों का शतक पूरा कर लेंगे। अभी सचिन को राहु की महादशा में शुक्र की अंतर्दशा चल रही है और यह मार्च 2011 तक चलेगी। यह अंतर्दशा सचिन की फार्म बनाए रखेगी।
कल क्या था स्पेशल
19 दिसंबर को सचिन के लिए खास दिन था, सितारे भी मास्टर ब्लास्टर के पक्ष में थे। 19 को चंद्रमा वृषभ राशि में था, जो कि सचिन की जन्म राशि से छठे भाव में था। ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक छठे चंद्रमा से शत्रु पर विजय का विचार किया जाता है। 19 को चंद्रमा सचिन की कुंडली के छठे भाव में ही स्थित था, जिससे उन्होंने अफ्रीकी गेंदबाजी के खिलाफ अपने बल्ले से जौहर दिखाए।
- भास्कर से

डबल के बाद अब तीन सिम वाला मोबाइल बाज़ार में उतरा

ड्यूल सिम के मोबाइल के बाद अब बारी है तीन सिम वाले मोबाइल की। बाजार में इन दिनों एक ऐसा हैंडसेट आ चुका है जिसमें तीन सिम लगते हैं। इसका फायदा है कि जब आप अपने शङर से बाहर जाते हैं तो एक लोकल सिम भी डाल सकते हैं। यह फोन इस समय काफी लोकप्रिय हो चुका है।
इसमें क्वार्टी की पैड, 2 मेगापिक्सल कैमरा, वीडियो रिकॉर्डिंग, डिजिटल ऑडियो, प्लेयर, एफएम रेडियो वगैरह सभी सुविधाएं हैं।
- भास्कर से
मोबाइल हैंडसेट निर्माता कंपनी ओलिव का नया मोबाइल ओलिव विज़ बाजार तहलका मचा रहा है। यानि कि ट्विटर, फेसबुक, ईमेल सभी कुछ इसकी ईमेल सुविधा जबर्दस्त है। इसके 2.2 इंच कलर स्क्रीन में ईमेल देखने की अच्छी सुविधा है।

...और उड़ जाते हैं चीथड़े

जबलपुर. ऐसा लगता है कि वर्तमान समय में आदमी के अंदर से मानवीयता मर चुकी है। क्रूरता की सारी हदें पार करते हुए आदमी आदमखोर की भांति हो चुका है। अब वह जंगली जानवरों को भी निर्दयता से मारने में परहेज नहीं कर रहा है। ....ऐसी ही एक घटना डुमना रोड धोबी घाट के पास घटी,जिसके बारे में सुनते ही वन विभाग के पैरों तले जमीन खिसक गई। यहां पर दो शिकारियों ने सुअर मार बम में बकरे की चर्बी लपेटकर जंगल के बीचोंबीच रख दिया।
स्थल पर एक सियार पहुंचा और उसने बम में लिपटी चर्बी को खाने की कोशिश में मुंह से दबाया,उसके चीथड़े उड़ गए। उसका जबड़ा भी बुरी तरह से लहूलुहान हो गया और बम के फटते ही कुछ दूर तक वह यहां वहां भागने लगा और आगे जाकर उसने दम तोड़ दिया।
पता चला है कि डुमना रोड धोबीघाट स्थित जंगल में शिकारियों के होने की सूचना जीसीएफ निवासी राजेन्द्र शर्मा ने एंटी पोचिंग विभाग के प्रभारी आरके कुमरे को गत दिवस दी थी। एंटी पोचिंग ने सूचना को गंभीरता से लेते हुए सुबह लगभग 4 बजे जंगल में डेरा डाला और शिकारियों की खोजबीन शुरू कर दी।
रास्ते में उन्हें कुछ खून के निशान मिले। इसी आधार पर वे आगे बढ़ते रहे, तभी उन्हें दो लोग नजर आए,उन्होंने पूछताछ की और संदिग्ध दिखाई देने पर उनकी तलाशी भी ली।
बकरे के मांस में मिलाकर बेचते हैं
आरोपियों से कड़ी पूछताछ की गई,तब जाकर उन्होंने बताया कि वे सियार के मांस को खाते भी हैं और इसे बकरे के मांस में मिलाकर बेचते भी हैं। पकड़े गए लालमाटी चांदमारी निवासी जहर सिंह और विक्रम बताए जाते हैं। दोनों रिश्ते में चाचा-भतीजा हैं। विक्रम दमोह जिले का रहने वाला बताया जाता है।
भतीजे को कुछ नहीं पता
पूछताछ में विक्रम ने वन विभाग के अधिकारियांे को बताया कि वह जबलपुर रहने के लिए आया था और चाचा उसे घुमाने के बहाने जंगल ले आए थे। दोनों आरोपियों के विरुद्ध वन्य प्राणी अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत कार्रवाई की गई है और उन्हें सिविल लाइन थाने में रखा गया है।
सियार की मौत के बाद उसे वेटरनरी कॉलेज लाया गया, जहां पर उसका पोस्टमार्टम किया गया।
जीभ ने खोला राज
तलाशी में वन विभाग के अधिकारियों को दोनों व्यक्तियों में से एक की पैन्ट की जेब से पत्ते में लिपटी हुई एक जीभ मिली, जिससे उनका शक और पक्का हो गया। यह जीभ सियार की थी, जो उन्होंने निकालकर जेब में रख ली थी।
- भास्कर से

छोटे पर्दे पर किंग खान की वापसी

नई दिल्ली : केबीसी में अमिताभ बच्चन और बिग बॉस में सलमान खान के आने के बाद में अब शाहरूख खान भी जल्द ही छोटे पर्दे पर जल्द आने वाले इमेजिन टीवी के एक नए शो में नजर आयेगें। आखिर इसका नाम क्या है? सूत्र बताते है कि शाहरुख खान इमेजिन टीवी के लिए बनाए जा रहे एक शो ‘जोर का झटका’ को होस्ट करेंगे। गौरतलब है कि शाहरुख खान इससे पूर्व में टीवी पर ‘केबीसी’ और ‘क्या आप पांचवीं पास से तेज हैं’ जैसे रिएलिटी शो के लिए एंकरिंग कर चुकें है। ‘जोर का झटका’ एक अमेरिकी शो पर आधारित है, जे पूरी तरह से रहस्य रोमांच और हास्य से परिपूर्ण है। जिसमें प्रतियोगी कभी डर का अहसास करेगा तो, तो कभी हंसते हुए लोटपोट हो जाता है। लेकिन दर्शक इन दोनों ही स्थितियों का भरपूर मजा लूटते हैं। इस शो के बारे में किंग खान का कहना है कि लोगों को लगता है कि यह शो ‘खतरों के खिलाड़ी’ की तरह होगा जबकि है उससे एकदम अलग है। इसमें प्रतियोगी को डराने के लिए किसी जहरीले जीव की अपेक्षा सिर्फ डर का ही इस्तेमाल किया जाएगा। साथ ही कहते है कि अपने जीवन में खुलकर हंसना भूल गए हैं। लेकिन इस शो में घटित प्रसंग ही हमें हंसने के लिए मजबूर करेगा। शाहरुख, के अलावा इस शो में फिजिकली फिट सेलिब्रिटी और अनफिट दोनों ही तरह की सेलिब्रिटी भी नजर आएगी।

- (प्रेमबाबू शर्मा, दिल्ली